Advertisements

Men are from Mars Women are from Venus | Book Summary in Hindi | कैसे होगे सारे झगड़े खत्म?

Men are from Mars Women are from Venus by John Gray| कैसे होंगे सारे झगड़े खत्म?| Book Summary in Hindi | ये जान गए तो कभी लड़ाई नही होगी | Happy Relationship के लिए एक दूसरे को समझना सीखें | Man are from Mars Women from Venus book review in Hindi | Relationship Advice | पुरुष और महिलाएं अलग-अलग तरह से क्यो सोचते है? | Reasons why couples fight | Tricks to make them in love | Man are from Mars Women are from Venus full story | Man are from Mars Women are from Venus Book Summary

Men are from Mars Women are from Venus
Advertisements

यह book उन basic differences को detail में बताती है। जो एक आदमी और एक औरत के बीच में होते हैं। चाहे वह physiological हो, Emotional हो या फिर Mental हो। दोनों के बीच में, ऐसे कई सारे differences होते हैं। ज्यादातर यह सब कुछ, ऐसे time पर आते हैं। जब कुछ ठीक नहीं होता। इससे फिर relationship में tension आती है। यही tension दो लोगों के दिल के टूटने की वजह बनती है। Relationship आपका चाहे, कितना ही पुराना क्यों ना हो। आप की शुरुआत, चाहे कितनी ही amazing क्यों ना हो।

    इस बात को कोई फर्क नहीं पड़ता। क्योंकि जब रिश्तो में खटास आ जाती है। तो आपस में दूरियां बढ़ने लगती हैं। John Gray का कहना है कि 7 सालों तक इस बारे में कई discovery करने के बाद। वह इस book को लिख पाए। इन सालों में, उन्होंने अपनी married life में से कई ऐसी वजहों को दूर किया। जिनसे उनकी married life बर्बाद हो रही थी। यह एक simple incident की वजह से हुआ। जो कि अचानक, उनके साथ हुआ। 

    कुछ ऐसा हुआ कि एक दिन उनका office में, बहुत ही बेकार गुजरा। सब कुछ गड़बड़ था। जब वह अपने काम से गुस्से में, परेशान होकर घर आए। तब उनकी पत्नी ने, दिनभर की शिकायतों का पिटारा। उनके सामने खोल कर रख दिया। क्योंकि उसका दिन भी काफी tough गुजरा था। एक हफ्ते ही पहले उनकी बेटी हुई थी। इन दिनों उनकी wife को काफी pain रहता था। उसकी pain killer की गोली खत्म हो गई थी। वह दर्द से इतना ज्यादा परेशान थी। उनके आते ही, सारा गुस्सा फूट पड़ा। वह भी दिनभर office की चिकचिक से भरे बैठे थे। वह भी उन पर जोर से चिल्ला पड़े। काफी कुछ बोल दिया। गुस्से के कारण, वह घर से बाहर जा ही रहे थे। तभी उनकी पत्नी, उनसे request करने लगी। थोड़ी देर के लिए, उनका हाथ पकड़ कर, उनके साथ बैठ जाए। 

तभी उन्हें अंदर से कुछ feel हुआ। वह जब उनका हाथ पकड़ कर, उनके सामने बैठे। तब उन्हें लगा, जैसे कोई जादू हो गया। उनकी सारी tension पल भर में गायब हो गई। उनके mind में घंटी बजी। फिर deep study, reflection और research के बाद। उन्होंने अपनी यह book लिखकर, दुनिया के सामने रखी। वह proudly कह सकते हैं कि इस book ने हजारों couples की life को change किया है। जो एक कड़वाहट से भरी married life को जी रहे थे। इस book को पढ़ने के बाद। वह एक happy, peaceful और progressive life जी रहे हैं।

Men Are From MARS Women Are From VENUS
Book Summary

   कल्पना कीजिए कि पहले Women, Venus पर रहती थी और Men, mars पर। एक दिन मार्स वासियों ने दूरबीन से देखा कि वीनस पर women रहती हैं। तो उन्होंने एक अंतरिक्ष यान बनाया। उसमें बैठकर, वह Venus ग्रह पर जा पहुंचे। Venus वासियों ने mars के लोगों का, दिल खोलकर स्वागत किया। फिर वह दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे। एक-दूसरे की पसंद-नापसंद को समझने लगे। एक-दूसरे के बीच के differences को समझने लगे। सब सही चल रहा था कि तभी उनकी नजर earth पर पड़ी। जो बहुत खूबसूरत नजर आ रही थी।

     उन्होंने फैसला किया कि हम जाकर earth पर रहेंगे। वह दोनों, Men और Women अंतरिक्ष यान में बैठकर। पृथ्वी पर आ गए। पृथ्वी की हवा का, उन दोनों पर ऐसा असर पड़ा। जिसकी वजह से उन दोनों की याददाश्त चली गई। उन्होंने एक दूसरे के बारे में जो भी जाना और सीखा था। वह सब भूल गए। यहां तक की वह यह भी भूल गए कि वह इस ग्रह के नहीं है। दोनों अलग-अलग ग्रह से आए हैं। तब से Men और Women के बीच, relationship में लड़ाई होती रही। क्योंकि हम चाहते हैं कि हमारा partner, हमारे जैसा बने। जैसा हम भी react और behave करते हैं। वैसा ही वह भी करें। 

हम Men और Women के बीच के differences को नहीं समझते। जो सभी के अंदर normal और natural है। हम अपने partner से demand करते हैं। उनको judge करते हैं। Criticize करते हैं। यहां तक कि उन पर गुस्सा भी होते हैं। लेकिन थोड़ा-सा समय नहीं देते, उनको समझने के लिए। अगर men और women एक दूसरे के बीच के differences को सम्मान दें।  स्वीकार कर ले। तो उन दोनों के बीच के झगड़े खत्म हो जाएंगे। उनके बीच बहुत ज्यादा प्यार बढ़ जाएगा। इन्हीं अंतर व differences को समझाने के लिए, इस book को लिखा गया।

Chapter - 1
Man are from MARS Women are from VENUS

  उन्होंने अपनी किताब की शुरुआत, इस thought से की है। हम सबको इस बात पर believe करना शुरू कर देना चाहिए। कि आदमी planet, Mars से आये हैं। जबकि औरतें planet, Venus से। जब men ने women को planet Venus पर discover किया। तब वह mars से venus पर उतर आए। फिर दोनों साथ में earth पर रहने लगे। दोनों के बीच का यह difference इतना ज्यादा बडा है। कि दोनों को एक-दूसरे से खास expectation और behaviour की उम्मीद कम कर देनी चाहिए। हम यही expect करते हैं कि हमारा opposite sex, हमारी तरह ही behave करेगा। जोकि possible नहीं है। क्योंकि हम fundamentally एक दूसरे से different हैं। तो जाहिर सी बात है कि behaviour भी different होगा।

Chapter - 2
Mr. Fix-it and the Home Improvement Committee

  Women, men के बारे में ज्यादा शिकायत यह करती है कि men हमारी सुनते नहीं हैं। वहीं Men, women के बारे में ज्यादा शिकायतें करते हैं कि women हमें बदलने की कोशिश करती हैं। जहां men काबिलियत (abilities) में interest रखते हैं। वहीं women, feelings में ज्यादा interest रखती है। Men को अपनी काबिलियत दिखाना पसंद है। इसलिए जब Women अपनी समस्या उनके सामने रखती हैं। तो वह एकदम से उन समस्याओं का समाधान, उनको ढूंढकर देते हैं। ताकि उनकी partner फिर से खुश हो जाए।

     इस तरह men अपना प्यार व परवाह women को दिखाते हैं। लेकिन men यह नहीं समझ पाते कि अगर women उनको अपनी समस्या बता रही हैं। तो इसका मतलब यह नहीं कि वह तुमसे solution या समाधान चाहती हैं। उनको बस कोई ऐसा इंसान चाहिए। जो उनकी पूरी बात सुने और emotionally support करें। जब men कोई गलती कर देते हैं। तो Women एक improvement committee बनकर। उन्हें बेहतर बनाने की कोशिश करती है। जिसकी वजह से men सोचने लगते हैं कि यह मुझे किसी काबिल नहीं समझती। मुझे change करना चाहती है। या फिर मुझे control करना चाहती है।

      यहां पर women को समझना चाहिए कि Men को काबिल होना पसंद है। आप उन्हें यकीन दिलाइये कि वह काबिल है। और भी ज्यादा काबिल बन सकते हैं। जिससे वह motivate हो जाएगे। तो हमें यहां यह बात समझनी होगी। Men और women एक दूसरे से कितने अलग हैं। जब कोई Women आपसे, अपनी समस्या के बारे में बात करें। या फिर यह बताएं कि आज उसके साथ क्या-क्या हुआ। तो आप उनको बीच में मत रोको। बस, उनको सुनते रहो। जब तक वह कोई सलाह या समाधान ना मांगे। तब तक उनको कोई समाधान या सलाह न दो। Women को समझना होगा।  आपके partner को आपकी सलाह या improvement से ज्यादा। उनकी काबिलियत पर यकीन की जरूरत है।

अगर आप एक Man हैं। तो हमेशा याद रखें कि जब आपकी wife या girlfriend सलाह दे। किसी चीज के बारे में कहे कि ऐसे करो या वैसे करो। तो इसका मतलब यह नहीं कि वह आपको control करने की कोशिश कर रही है। वह बस चाहती है कि आप फिर से कोई गलती करके, किसी बड़ी समस्या में न फस जाएं। इसलिए आपको बेहतर बनाने की कोशिश कर रही है। अगर आप एक Woman है। तो हमेशा याद रखिए कि अगर आपका husband या boyfriend। आपकी बात बीच में काटकर कोई मशवरा या सलाह दे रहा है। तो वह चाहता है कि आपकी समस्या का समाधान हो जाए। ताकि आप आपके चेहरे की खुशियां वापस आ जाएं। आप उनको बताओ कि अगर मैं आपसे समस्या के बारे में बात कर रही हूं। तो इसका मतलब ये नहीं कि मुझे उस समस्या का समाधान चाहिए। मैं बस चाहती हूँ कि तुम सब्र के साथ मुझे सुनो। ऐसा करके, तुम मेरी बहुत बड़ी help कर रहे हो।

Chapter - 3
Men Go To Their Caves And Women Talk

जब Men और Women की जिंदगी में कोई समस्या आती है। तो लड़के उस समस्या का समाधान करके, अच्छा महसूस करते हैं। जबकि women उस समस्या के बारे में किसी से बात करके, अच्छा महसूस करती हैं। यही difference है कि Men अच्छा feel करने के लिए, अकेले में रहना पसंद करते हैं। जबकि women अच्छा feel करने के लिए, किसी से बात करना पसंद करती हैं। जब एक Men किसी समस्या का समाधान करने की सोचता है। तब वह दूसरी, सभी चीजों को भूल जाता है। जैसे छोटी problems और अपनी relationship।

     जैसे ही वह अपनी समस्या का समाधान कर लेता है। तब फिर से, वह अपने room या cave से बाहर निकलकर relationship को निभाने के लिए तैयार हो जाता है। लेकिन अगर वह समस्या का समाधान ढूंढ नहीं पाता। तब अपनी cave में ही फंसा रहता है। अपनी tension से राहत पाने के लिए। वह टीवी खोल कर, उस पर News या Cricket देखना पसंद करता है। इन सब के चलते men अपनी  partner को time और attention नही दे पाता। जो उसका हक होता है। जिस वजह से Women को लगने लगता है कि उनका boyfriend या husband उनको ignore कर रहा है। या फिर उनका प्यार कम हो रहा है।

      Women अक्सर समझ नहीं पाती कि men तनाव का सामना कैसे करते हैं। वह उन पर जोर देती हैं। अपनी समस्या के बारे में खुलकर बात करने के लिए। जिस तरह वह खुद करती हैं। अगर men मना करके TV on कर ले या घर के बाहर चला जाए। तब women को दुख होता है। उसके बाद relationship को लेकर झगड़ा भी होता है। अगर बात की जाए। Women के अच्छा महसूस करने की। तो women तुरंत men की तरह, समस्या के समाधान के बारे में नहीं सोचती। वह पहले किसी को अपनी बातें बताकर व समझाकर थोड़ा सुकून हासिल करती हैं। हमेशा लड़कियों को अपनी समस्या के बारे में, बात करके अच्छा महसूस होता है। 

     इसी वजह से लड़कों को लगने लगता है कि वह कितना बोलती हैं। बार-बार एक ही बात को repeat करती हैं। भला बात करने से कोई प्रॉब्लम solve हो जाएगी। जी हां, उनकी हो जाती है। यहां पर लड़कों को समझना होगा। अगर लड़कियां ज्यादा बात करती है। बार-बार एक ही बात को repeat करती हैं। तो ऐसे उनको अच्छा महसूस होता है। आप उन पर गुस्सा ना करें इसकी बजाय, आप उनको एहसास दिलाइये कि आप उनको समझते हैं। उनके natural difference को समझिए। उनको ध्यान से सुनते रहे। 

    वही women को समझना चाहिए कि अगर उनका boyfriend या husband रूम में अकेले time spend करना चाहता है। तो इसका मतलब यह नहीं कि वह आपको ignore कर रहा है। उसका प्यार आपके लिए कम हो रहा है। उनके natural difference को समझिए। जब वह किसी समस्या में पड़ जाते हैं। तो अकेले रहकर, समस्या का समाधान सोचना चाहते हैं। जब समस्या का समाधान हो जाएगा। तब वह फिर आपके साथ active हो जाएंगे। अगर आपको उनके लिए कुछ करना है। तो उनसे कहिए मेरी जरूरत हो, तो आवाज लगा देना। मैं हर समस्या मे तुम्हारे साथ हूं। शायद यह सुनने के बाद, वह आपसे कुछ शेयर करें। उनके दिमाग में क्या चल रहा है।

Chapter - 4
How To Motivate The Opposite Sex

  Men और women, एक-दूसरे को कैसे motivate कर सकते हैं। Men को तब motivate और शक्तिशाली महसूस होता है। जब उनकी जरूरत, उनके partner को होती हैं। Women को तब motivate और शक्तिशाली महसूस होता है। जब उनको प्यार दिया जाता है। उनकी परवाह की जाती है। Men उनको पूरी खुशी सिर्फ  काबिल बनने या Powerful बनने में ही नहीं मिलती। वो अपनी power और काबिलियत का इस्तेमाल, दूसरों के लिए कुछ करना चाहते हैं। खासकर women के लिए। जिनसे उन्हें पूरी खुशी मिलती है। किसी nature की वजह से, जब एक woman जरूरतमन्द या helpless महसूस करती है। तो उसके लिए 5-5 men तैयार हो जाते हैं। उसको सुनने के लिए। उसका दुख-दर्द बांटने के लिए।

   वही बात की जाए, women के motivation की। जब women परेशान, helpless, confuse होती हैं। तब उनको, अपने करीबी लोगों की जरूरत पड़ती है।  जो उनको यह महसूस करा सकें। वह अकेली नहीं हैं। उन्हें किसी के प्यार की और परवाह की जरूरत होती है। Women तब तक motivate रहती हैं। जब तक उनको यह महसूस होता रहता है कि वह प्यार के लायक हैं। उनको प्यार कमाने की, जरूरत नहीं है। वह आराम कर सकती हैं। कम value देकर, ज्यादा value ले सकती हैं। वह यह deserve भी करती हैं।

यहां पर समझने वाली बात यह है। अगर आप एक man हो। तो अपने partner को समय-समय पर एहसास दिलाते रहो। कि आप उनसे प्यार करते हो। हर पल उनके साथ हो। उनकी परवाह करो। वह सारे दूसरे काम करो। जिनसे उन्हें खुशी मिलती है। जैसे उनको gift देना। 

Woman के लिए, ध्यान में रखने वाली बात यह है कि आप अपने boyfriend या husband से कोई भी ऐसी बात मत करो। जिससे उनको महसूस हो कि वह काबिल नहीं है। यह आपको उनकी जरूरत नहीं है। समय-समय पर, अपने partner को उनकी काबिलियत पर यकीन। आपको उनकी कितनी जरूरत है। इसका एहसास दिलाते रहो।

Chapter - 5
Scoring Points

   चाहे gift बड़ा हो या छोटा। Women उसके लिए, एक ही point देगी। लेकिन men बड़े gift के लिए ज्यादा point देते हैं। उदाहरण के लिए, अगर dinner, 5-star होटल में हो। तो उसके लिए वह एक ही point देती है। लेकिन अगर dinner के साथ love text और एक compliment हो, तो उसे 3 point मिलेंगे। वूमेन ज्यादा खुश होगी। Conclusion- Little things count for Women।

Chapter -6
How to Avoid Argument

जब men सब्जी लेकर घर आता है। तो women कहती है। आज आप सब्जी बिल्कुल अच्छी नहीं लाए। इस पर men कहता है, इतनी बुरी भी नहीं लाया। तब women कहती है। यह देखो, कैसे बनाऊं इसे। इतनी बुरी तो है। Men तब कहता है। तो मुझे भेजा ही क्यों। यह conversation आगे चलकर, argument बन जाता है। Women को यह बोलना चाहिए। सब्जी अच्छी नहीं मिल रही, क्या आजकल। Women को men की ability पर चोट नहीं करनी चाहिए। या फिर men को statement को validate करना चाहिए। हां, सब्जी इसलिए अच्छी नहीं लाया। क्योंकि सब्जी अच्छी नहीं मिल रही है।

Chapter - 7
Both Speak Different Languages

   Men और women दोनों की speaking language, बिल्कुल अलग होती है। उदाहरण के लिए, अगर movie देखने जाना है। तो men कहेंगे। बहुत दिन हो गए। Movie देखने नहीं गए। आज बहुत मन कर रहा है, चलोगी आज movie देखने। लेकिन यही बात, अगर women कहेगी। तो कितने दिन हो गए, तुम तो अब कभी भी, मेरे साथ movie देखने नहीं जाते। यहां पर men को समझना है कि women असल में, कहना क्या चाहती है। Women का बोलने का तरीका, men से पूरा अलग होता है। Women हमेशा comparing करके या generalizing करके बात करती हैं। इसलिए men को women की बातों को literally न लेकर, उसके पीछे छिपी हुई, feeling को समझना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.