Advertisements

The 5 Second Rule | Book Summary in Hindi | सिर्फ 5 Second मे अपनी ज़िंदगी बदले

The 5 Second Rule by Mel Robbins | The 5 Second Rule Book Summary in Hindi | क्या आप अपनी जिंदगी बदलना चाहते हैं? | क्या आप Success होना चाहते हैं ? | सिर्फ 5 सेकंड आपकी जिंदगी बदल देंगे | 5 सेकंड Rule क्या है ? | 5 सेकंड में आपका हर काम पूरा | How to control your Mind in 5 Second | Life में success होने के लिए 5 Second Rule | 5 Second Rule- To control your Brain | Change your life in 5 Seconds | what is 5 Second Rule | 5 Second Rule Book Review

The 5 Second Rule
Advertisements

The 5 Second Rule
Book Summary

Push yourself and take control of situation। यह Book अपना व्यवहार बदलने और जीवन को कम डर और अधिक साहस के साथ बदलने के लिए, हमें motivate करती है। यह science of Habits, Stories और surprising facts का उपयोग करते हुए। Push Moment की power को समझाती है। इसमें दिए गए Simple Concept को use करके। कोई भी effective और confident बनने के साथ, अपने जीवन पर control पा सकता है। 5 Second Rule Book के author Mel Robbins एक CNN commentator, Television Host है। Motivational speaker हैं। वो Success Magazine के contributing editor भी हैं।

5 सेकंड में अपनी Potential को unlock करें। यह अच्छा नहीं होगा, अगर बेहतर बनना 5 से 1 तक उल्टी गिनती गिनने जितना आसान हो। खैर, आप भाग्यशाली हैं। क्योंकि इस Book की Summary में आप ये सब पाएंगे। 5 से 1 तक गिनकर, आप कितना कुछ पा सकते हैं। कैसे कुछ जो इतना सरल है। आपको बेहतर बना सकता है। यह छोटी-सी उल्टी गिनती, आपकी हिचकिचाहट को दूर करती है। जो हम सभी में बसी हुई है। यह हमें आगे बढ़ाती है। जिससे हमें अपने पूरे potential तक पहुंचने के लिए, motivate किया जा सकता है।

What is 5 Second Rule ?

 कई साल पहले author मेल रोबिन अपनी जिंदगी से बहुत ज्यादा दुखी थी। वो हर दिन सोचती थी कि वह अपने आप को अब तो बदलेंगी। Late सोते रहने की बजाय, वह सुबह जल्दी उठेंगी। लेकिन जब भी alarm बजता। वह snooze बटन दबाकर, वापस सो जाती थी। वह सोचती तो थी कि मैं भी fit रहूँ, exercise करूं। लेकिन उनकी शराब पीने की आदत, उनसे नहीं छूट रही थी। जिसकी वजह से, वह काफी out of shape हो गई थी। उनके पास कोई job नहीं थी। उनके पति के रेस्टोरेंट का बिजनेस काफी loss में जा रहा था। सब कुछ बहुत बुरा चल रहा था। इसीलिए वह ऐसी जिंदगी से थक चुकी थी।

एक रात अचानक, उन्होंने टीवी पर कुछ ऐसा देखा। जिसने उनकी जिंदगी बदल दी। उनको टीवी पर program देखने से, एक ऐसी trick मिल गई। जिसकी वजह से, उनकी पूरी जिंदगी बदलने लगी। अब दूसरे दिन, उन्होंने हर बार की तरह alarm बंद नहीं किया। बल्कि वह पहली बार में हीं उठ गई। इसके बाद उन्होंने अपने running shoes पहने। सुबह running करना start कर दिया। उन्होंने फिर अपनी, शराब की आदत को same trick की मदद से खत्म किया।

कुछ महीनों में, अपने अंदर कई ऐसे changes लाए। जिसके परिणामस्वरूप, उन्हें बहुत जल्दी में एक great जॉब मिल गई। CNN Channel पर, एक टीवी commentator की। इसके बाद, धीरे-धीरे वह और उनके पति ने अपने सारे कर्जे को खत्म किया। अपने रेस्टोरेंट्स के business को बचा लिया। लेकिन बस इतना ही नहीं था उसके बाद, वह काफी rich और famous भी हो गई। उन्होंने अपनी book लिखी। फिर एक ग्रेट स्पीकर बन गई। उनके लिए, सब कुछ एक सपने की तरह सच में हो रहा था। बस एक trick की वजह से, जो उन्होंने अपनी life में apply करना start किया।

Trick No. 1
The Rule of 5 Second

 अब आपके दिमाग में यह Question आ रहा होगा। आखिर रॉबिंस ने, उस रात TV में ऐसा क्या देख लिया। उन्होंने टीवी पर, NASA का Program देख लिया था। जिसमें एक राकेट को लांच किया जा रहा था। जी, आपने बिल्कुल सही सोचा। इसे देखकर ही, उन्हें idea आया। Idea आया, जब Robin ने नोटिस किया। कैसे जब एक रॉकेट लांच होने वाला होता है। उससे पहले एक countdown चलता है- 5,  4, 3, 2, 1। बस जब countdown एक पर पहुंच जाता है। फिर उसके बाद, चाहे कुछ भी हो। फिर पीछे नहीं हटते। रॉकेट को  लांच कर दिया जाता है। फिर चाहे कुछ भी outcome निकले।

     यह same आईडिया,  रॉबिन के दिमाग में भी बढ़ गया। उन्होंने राकेट के बजाय, अपने लिए use करना शुरू कर दिया। उदाहरण के लिए, जब next day अलार्म बजा। उन्हें उठने का दिल नहीं कर रहा था। तो उन्होंने उसी idea की याद किया। फिर countdown करना शुरू किया- 5,4,3,2,1। बस फिर वह उठ गई। इसके बाद, जब उनका running में जाने का दिल नहीं कर रहा था। तो उन्होंने फिर से, यही trick use की। उन्होंने अपने दिमाग में countdown चलाया। फिर तुरंत shoes पहन लिए। फिर से countdown करके, बिना कुछ सोचे वह निकल गई। 

ऐसे ही जितनी भी बार, उनका काम करने का दिल नहीं करता। तो बस यही simple सी चीज की आदत बनाकर बोलती। जिसने धीरे-धीरे उनकी पूरी लाइफ बदल दी। ज्यादातर लोग extra पैसा कमाना चाहते हैं। Startup चालू करना चाहते हैं। Healthy रहना चाहते हैं। अच्छे relationship में रहना चाहते है। लेकिन वह इससे related कोई भी action नहीं ले पाते। कई हजार reasons की वजह से। ऐसा उन्हें लगता है। लेकिन actual में हजार नहीं, बस कुछ ही reason होते हैं। जो उन्हें action लेने से रोकते हैं। यह 5 सेकंड रूल एक-एक कर उन सभी से लड़ता है।

Trick No. 2
The Greatest Habit

 Habits कितनी ज्यादा important होती है। आपको पता होगा, जो decide करती है। आप destiny, आपका future क्या होगा। आपको शायद यह भी पता होगा। हर habit 3 step में बनती है। 1st – CUE, 2nd – ROUTINE और 3rd – REWARD । इसे ऐसे समझते हैं। आपको, आपका एक दोस्त मिलता है। जिसके साथ, आप हमेशा सिगरेट पीते हो। तो आपके लिए, उस दोस्त का कभी भी आपको मिलना CUE होता है। जो आपको  trigger करता है। चलो, सिगरेट पीते हैं। फिर आप दोनों मिलकर एक specific shop पर जाते हैं। जो आपका एक routine हो जाता है।

ये आपको एक specific action लेना सिखाता है। Finally, आप सिगरेट पीते हो। जिससे आपको निकोटिन मिलता है। आपको अच्छी feeling आती हैं। ये आपका REWARD होता है। यही Cycle होता है। जिससे कि आपको, उस आदत की लत लग जाती है। ठीक इसी प्रकार, हर आदत बनती है। चाहे वह अच्छी हो या बुरी।

अब इस rule के reference से, जब आप 5..4..3..2..1 बोलते हो। तो ये चीज़ CUE की तरह act करती है। क्योंकि आपके दिमाग को पता है कि 1 के बाद कुछ तो होगा। जो कि universal है।  जब आप countdown के बाद, कोई भी action लेते हो। वह कोई भी action हो सकता है। इससे आपके brain को, न सिर्फ सोचते रहना। बल्कि action लेना, एक routine लगने लगती है। आखिर में  आपको feel होता है कि आप अपने control में हो। जो इंसान को emotionally, एक सबसे अच्छी feeling देती है।

Trick No. 3
LOCUS of CONTROL

 Psychology (मनोविज्ञान) का एक बहुत ही महत्वपूर्ण concep है। जो जूलिया रोटर ने 1954 में निकाला था। इसे वह बोलती है- Locus of Control। जो यह बोलता है कि जितना ज्यादा आपको यह believe होगा। आपकी life आपके control में है, आपके action, आपका future। उतना ज्यादा आप, अपनी लाइफ में खुश रहोगे। उतना ही ज्यादा आप successful भी बनोगे। तो जब भी आप count करते हो 5 to 1 तक। तो इससे आप एक routine बनाकर, छोटा ही सही। लेकिन आप एक action लेते हो।

 यह चीज आपको बहुत ज्यादा in control, feel कराती है। हां, मैं अपनी लाइफ को बदल रहा हूं। मतलब चीजें अपने आप नहीं, बल्कि मेरे decision की वजह से हो रही है। जो कि सबसे अच्छा तरीका है। किसी भी habit को built करने का। किसी भी बुरी आदत को खत्म करने का, best तरीका होता है। उसे किसी अच्छी आदत से replace करना। जो 5 second rule बहुत अच्छे से करता है।

उदाहरण के लिए, मेल रॉबिन्स को जब भी exercise करने का दिल नहीं करता था। तो शराब पीने के बजाय countdown करती थी। फिर shoes पहनकर, हल्के running के लिए निकल जाती थी। जो उन्हें in control फील कराता था। उन्हें change होने में help करता था।

Trick No. 4
Inner Wisdom

जब भी आप कोई goal set करते हो। तो आपके दिमाग में चीजों की एक list खुल जाती है। मुझे यह करना है, मुझे वह करना है। इसके बाद से, जब भी आप अपने गोल के काम से नजदीक आते हो। तो आपका brain आपको trigger करता है। यह काम करो। अगर आपने सोचा है कि आपको fit होना है। तो जब भी आप किसी zim के पास जाओगे। किसी bodybuilder को workout करते हुए देखोगे। तब आपका prefrontal cortex, active हो जाएगा। वह बोलेगा कि आपको भी workout करना चाहिए। यही आपकी  natural instinct भी होती है। आपकी inner wisdom। जिसे आपको हमेशा गौर से सुनना चाहिए।

जब भी आपको यह आए। तो फौरन 5..4..3..2..1 बोलकर act करना चाहिए। उदाहरण के लिए, जब आप ऐसे ही मोबाइल के पास बैठे होते हो। Timepass कर रहे होते हो। तब आपका inner wisdom बोलता है। चलो, अपने goal से related कुछ काम करते हैं। तो जब भी ऐसा हो। तो फौरन countdown करो। तब चाहे छोटा ही सही, लेकिन goal-oriented एक्शन लो। क्योंकि अगर आप ऐसा नहीं करोगे। तब आपका brain, आपको एक के बाद एक problems गिनाना start कर देगा। यह सब होगा, एक effect की वजह से। जिसे बोलते हैं- Spot Light Effect ।

Trick No. 5
Spot Light Effect

कुछ लड़कों पर, एक Barry Manilow T-shirts नाम का experiment किया गया था। इसमें उन्हें एक embarrassing सी t-shirt पहनाई गई। फिर उन्हें एक room में चलने को बोला गया। जहां पर बहुत सारे लोग थे। अब उस room में चलाने के बाद, लड़कों से पूछा गया। तुम्हें क्या लगता है। कितने लोगों ने तुम्हारी embarrassing सी T-shirts को नोटिस किया होगा। तब इस पर on average लड़कों ने कहा- at least 50% लोंगो ने तो देखा ही होगा। जबकि actual में 20% या उससे भी कम लोंगो ने notice किया। Author बोलती हैं कि उन 20% लोगों को भी, शायद ही कोई फर्क पड़ा होगा। इस बात से कि लड़कों ने embarrassing सी टी-शर्ट पहनी है। 

    क्योंकि हर इंसान अपने ही बारे में ज्यादा सोचता है, न कि दूसरों के बारे मे। इसी तरह आपको पता ही होगा। NIKE का टैगलाइन है- Just Do It । जो usually, वो एथलीट को भी target करके बोलते हैं। लेकिन ऐसा क्यों। Tagline तो Do It भी हो सकता था। Just Do It लिखने की क्या need थी। Need थी, क्योंकि उन्हें भी पता है। कितना बड़ा एथलीट क्यों न हो। उसे भी action लेने से पहले, hesitation होती है। यह hesitation, जो दिमाग unnecessary पैदा करता रहता है। वह खतरनाक हो सकती हैं। इसलिए Just Do It । Fast action महत्वपूर्ण है।

Author बोलती हैं कि हमारे action न ले पाने के 3 बड़े obstacles होते हैं। सबसे पहले हमारा खुद का Brain। दूसरा Success या हम बोल सकते है, Mediocrity यानी comfort zone और तीसरा Fear । यहां पर हम brain पर ज्यादा फोकस करेंगे।

Trick No. 6
Two Mods of Brain

एकदम simple term में देखें। तो author बोलती है कि हमारे brain में दो modes होते हैं। पहला- Auto Pilot Mode, जिसे ऐसे समझे तो बिना रास्ते को सोचे। हम अपने घर तक पहुंच जाते है। फिर सोचते है, अरे यार! कब यहां पहुंच गये। पता ही नहीं चला। दूसरा- Directed Thoughts । एक इंसान जब भी rest कर रहा होता है। तो वह usually autopilot पर होता है। जब भी उसको कोई action लेना होता है। तब उसे अपने thoughts को direct करना पड़ता है। अपने Prefrontal Cortex को activate करना पड़ता है। कि ये – ये करो।

जो maximum time हमारे brain को पसंद नहीं आता। अगर आप, अपने आप से भी पूछो। तो आप पक्का answer दे दोगे। आपको exactly क्या करना चाहिए। क्या actions लेने होंगे। अगर fit होना है, तो क्या करना है। अगर पैसे कमाने हैं, तो क्या करना होगा। लेकिन हम हर बार वह सब नहीं करते। क्योंकि हमारा brain नहीं चाहता कि हम काम करें। इसीलिए फिर वह हमे excuses देने लगता है। नहीं, workout मत करो। क्योंकि तुम थके हुए हो।

Goals पर काम मत करो। क्योंकि कोई फायदा ही नहीं है। Fail हो जाओगे। तुमको knowledge ही नहीं है। ऐसे ही वह हमको, बहुत सारे excuses देने लगता है। वह यह सब करता है, with in 5 second। इसीलिए जब हम 5 सेकंड rule apply करना शुरू करेंगे। Countdown करके, फौरन action लेना शुरू करेंगे। तो यह simple सी trick सारी problems से लड़ेगी।

Trick No. 7
NEEURO - PLASTICITY

 अगर आप से पूछा जाए कि आपका ब्रेन कितने उम्र तक बढ़ता है। तो आप बोलोगे कि 18 साल से 25 साल तक। कुछ सालों पहले तक लोगों को ऐसा ही लगता था। हमारा ब्रेन 25 सालों तक ही बढ़ता है। लेकिन plasticity research बताती है, कि हमारा ब्रेन जिंदगी भर बढ़ सकता है। इसीलिए हम नई चीजें सीख पाते हैं। हम चाहे, किसी भी उम्र के क्यों न हो। हम किसी भी habit को अपना सकते है। शायद अभी आपके दिमाग में एक pattern बना होगा। जो आपको काम करने नहीं दे रहा होगा।

लेकिन जब आप 5 second rule अप्लाई करोगे। तो यह pattern अपने आप बदलेगा। जैसे- एक बच्चा जब अपने हाथ, रेत पर दबाता है। तो उसके हाथ के निशान छप जाते हैं। वैसे ही जब आप इस rule को apply करते हो। तो आपके दिमाग में, इसके print बनते रहेंगे। जिसमें यह numbers का countdown सीधे link हो जाएगा। आपके action लेने से। जो future में, आपको action लेने में और ज्यादा help करेगा।

So To End

   जब भी आपकी inner wisdom, आपको goals से related कुछ भी काम करने के लिए बोले। तो उसे आप with in 5 सेकंड करो। जल्दी से जल्दी action लेके। बिना अपने brain को time दिए। मतलब फौरन 5..4..3..2..1 बोल के। कुछ तो actions लो, goals से related। क्या steps लेने हैं। वह अपने mobile में या कॉपी पर लिख लो। Hesitate होकर time, Waste न करे। आप 5 second rules को use करके, अपना current behavior बदल सकते हैं। 

   बुरी habits  को अच्छी habits से replace करके। 5 second rule, आपको help करेगा। आपके thoughts और actions को control करने में। आप control नहीं कर सकते कि आप कैसा feel करेंगे। लेकिन आप control कर सकते हैं, कि आप कैसा act करेंगे। Ready होने के लिए, इंतजार करना बंद करें। क्योंकि आप कभी भी ready नहीं हो सकते। सीधा action लेना होगा। परेशान करने वाले thoughts को उन चीजों से replace करें, जिसके लिए आप grateful है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.