Advertisements

Brain Rules for aging well by John Medina- Book Summary | दिमाग को तेज़ करने के अद्भुत नियम

Brain rules Book summary in Hindi। Motivational Book summary in Hindi। Brain rules for aging well by John Medina book review in Hindi । दिमाग के 12 rules । सबसे तेज बनने के लिए 12 rules । How to increase brain power in Hindi । Brain rules  by John Medina । दिमाग को तेज करने के लिए 12 नियम । दिमाग के अद्भुत नियम । Best rules for brain booster । Motivational Book Review in hindi

Brain Rules for Aging Well
Book Summary

यह जिंदगी बस यूं ही बीत जानी है,

आज बचपन तो कल जवानी है।

गुरुर कैसा जो जिस्म खूबसूरत है, 

बुढ़ापा भी तजुर्बे की अदत निशानी है।

     किसी ने सौ टाका सच बात कहीं है। लेकिन यह जो बुढ़ापा है। उम्र का दौर है। इसके बारे में, सोचकर बड़ा stress होता है। भगवान कुछ भी करो। बस बुढ़ापा मत देना। कुछ हद तक, बात बिल्कुल ठीक है। हमारे आसपास जो हम देख रहे हैं। Observe कर रहे हैं। उसे देख कर तो यही लगता है।

     वाकई में उम्र का यह दौर आना ही नहीं चाहिए। लेकिन घबराइए मत। यह दौर तो आना तय है। जब कोई चीज आनी तय है। तो क्यों न हम तैयारी करके, बहुत ही खूबसूरत तरीके से। उस दौर में जाएं। उस time को enjoy करें। क्या यह वाकई में possible है। जी बिल्कुल possible है।

     कभी न कभी आपने निश्चित ही बड़ी खूबसूरती से, अपने आपको बुढ़ापे की ओर जाते देखा होगा। imagination में, ख्यालों में या कभी बातचीत में। आपने कभी अपने माता-पिता या दादा-दादी को देखकर सोचा है। क्यों उनके सोचने का और चीजों को करने का तरीका। आप से बिल्कुल अलग है। क्या आपको लगता है कि आप बुढ़ापे के असर से बच जाएंगे। बुढ़ापे को तो आना ही है। जवानी बहुत जल्दी बीत जाती है।

     आपको पता ही नहीं चला है। कब आपने अपने जोड़ों के दर्द की शिकायत करना शुरू कर दिया है। आप कुछ जरूरी चीजें भूलना शुरू कर चुके हैं। जैसे कि गाड़ी की चाबी, बच्चों के स्कूल जाना। हालांकि बहुत सारे scientist के studies में इस point को proof किया है। बूढ़े होने के process में जितनी भी मुश्किलें आती हैं। आप उसे पार कर सकते हैं। इसमें आप जानेंगे कि अपने brain का ख्याल कैसे रखें।

 Brain Rules एक ऐसी book है। इसमें brain के 12 rules को scientific research के साथ बताया है। जिसे Dr. John Medina ने लिखा है। जो एक molecular scientist थे। उन्होंने जीवन भर, अपना सारा ध्यान एक ही चीज brain science में रखा। इनके 12 brain rules को यदि आप समझ गए। तो आप अपनी brain की power को दोगुना कर लेंगे। चलिए जानते हैं, उन rules के बारे में-

1st Rule
Exercise Boost Brain Power

  क्या आप जानते हैं। हमारे पूर्वज आदिमानव, किस तरह से जीवन जीते थे। हमारा दिमाग कैसे विकसित हुआ है। इसका सीधा प्रभाव उस बात पर निर्भर करता है। हमारे पूर्वजों ने, अपना समय कैसे व्यतीत किया था। माना जाता है कि आदिमानव प्रतिदिन 10 से 20 किलोमीटर तक हर दिन चलते या दौड़ते थे। इसका मतलब यह है। हमारा brain तब, develop नहीं हुआ। जब हम सिर्फ आलसी होकर बैठे रहे। पर तब जब हम व्यायाम करते थे। चलते थे, दौड़ते थे।

    Exercise करने का फायदा यह है कि हमारे शरीर की पाचन प्रणाली मजबूत होती है। जिससे आप जो भोजन करते हैं। उसमें से आपको ज्यादा energy प्राप्त हो जाती है। जब आप exercise करते हैं। तब आप शरीर में रक्त का संचार बढ़ाते हैं। इसके साथ ही, आपका शरीर नई रक्त कोशिकाओं का production भी शुरू कर देता है। जिससे आपके रक्त के कणों को, अपना काम करने में आसानी हो जाती है।

    Vitamins और Minerals को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाना हो। या फिर शरीर के कचरे को शरीर से दूर करना हो। इसीलिए जब आप exercise करते हैं। तो न केवल आप बेहतर महसूस करते हैं। बल्कि आप अधिक प्रभावी ढंग से सोच भी सकते हैं। जो आपके विचार शक्ति को भी मजबूत करता है। Exercise करने से, आपके शरीर में BDNF का hormone उत्सर्जित होने लगता है। जो आपके शरीर को healthy रखने में काफी मदद करता है।

यह BDNF नाम का growth इतना powerful है। जिसके जरिए आपके neurons, healthy रह सकते हैं। यह harmons आपके नए cell के सृजन की क्रिया में भी काफी मददगार है। यही reason है। Exercise आपके brain व body को एक powerful machine बनाने में काफ़ी उपयोगी शस्त्र है। जिसे हमे हर दिन use करना चाहिए।

Brain Rules for Aging Well by John Medina
Advertisements

2nd Rule
The Human Brain Develop By Solving Problem

हमारा Brain, problem को solve करने के लिए ही बना है। हमारी प्राचीन संरचना पहले से, इसी तरह से विकसित हुई है। जब हमारे पूर्वज आदिमानव थे। तब उन्होंने दूसरे जीवो से खुद की रक्षा कैसे करें। उसके लिए काफी संघर्ष किया था। इस संघर्ष की वजह से ही, हमारा brain दूसरे जीवों से अधिक विकसित हो पाया है। यानी कि जितने challenges, आप इस life में face करोगे। उतना आपका brain और अधिक develop होगा।

3rd Rule
Every Brain Is Wired Differently

Michael Jordan जो दुनियाँ के बेहतरीन basketball player है। उन्होंने 1994 में बास्केटबॉल को छोड़ दिया। वह बेसबॉल खेलने लगे। आश्चर्य तो तब हुआ। जब उन्हें बहुत बुरी तरीके से हार का सामना करना पड़ा। आपको लग रहा होगा।  माइकल जॉर्डन जैसे प्रतिभावान खिलाड़ी, किसी भी game में, दूसरों को मात दे सकते हैं। लेकिन इस case से बेसबॉल में हार मिलने के बाद। उन्होंने मान लिया कि उनके लिए सिर्फ बास्केटबॉल ही पर्याप्त है। फिर वह वापस बास्केटबॉल खेलने लगे। जिसके लिए, उनका शरीर और brain तैयार हुआ था।

      इस घटना से यह पता चलता है। हमारे experience न केवल, हमारे brain को change करते हैं। साथ ही उसे rewire भी कर देते हैं। यानी कि हम सबके brain अलग-अलग तरीके से काम करते हैं। जो आपकी क्षमता है। वह मेरी न भी हो। दुनिया में दो लोगों के brain, कभी भी एक जैसे नहीं हो सकते। यहां तक कि जुड़वा बच्चों के brain भी अलग ही होते हैं। हर एक छात्र, दूसरों से अलग होता है। हर एक employee का brain अलग होता है। हर एक customer का brain भी अलग-अलग होता है।

      हमारे education system में, आज भी यह problem है। सबका grade system के आधार पर, मूल्यांकन होता है। जैसे सबके brain एक समान हो। जो कि गलत है। हर एक student को उनकी कार्यक्षमता और योग्यता के आधार पर, आगे बढ़ने का मौका दिया जाना चाहिए। एक छोटे तो उदाहरण से समझते हैं। आज के समय की digital advertising media कितनी strong हो गई। 

अगर हम किसी product को, एक बार google में search करते हैं। तो आपके फोन, कंप्यूटर, टीवी सभी जगह उस कंपनी की advertisement दिखाई पड़ती है। Advertising media भी समझ चुकी है। जिस व्यक्ति की जैसी पसंद होती है। उसको उसी के आधार पर ही ऐड दिखाने चाहिए। इसी तरह अगर, आप को भी अपनी life में आगे बढ़ना है। तो अपनी क्षमता को पहचाने। सही निर्णय लेने की का प्रयास करें। न की जैसा, दूसरे लोग कर रहे हैं। वैसा ही आप भी करने लगे।

4th Rule
We Don't Pay Attention To Boring Things

 क्या आप महसूस कर सकते हैं। कि अभी आपके पैर पर अभी क्या चल रहा है। अभी तक शायद आपने ध्यान न दिया होगा। लेकिन जैसे आपने पढ़ा, वैसे ही आपका ध्यान इस पर चला गया होगा। इससे पहले आपने ध्यान नहीं दिया होगा। क्योंकि आप कोई जरूरी नहीं लगा था। उसी तरह आपके brain में हजारों neurons मौजूद हैं। जो हर पल आपका ध्यान खुद की ओर खींचने की कोशिश करते रहते हैं। लेकिन उसमें से कुछ ही होते हैं। जो आपका ध्यान अपनी ओर खींच पाने में सफल होते हैं। बाकी को आप notice तक नहीं करते।

      हमारे पास कई cognitive system है। जो हमारे खतरे, अवसर और इसी तरीके के pattern को समझने में। हमारी मदद करते हैं। हमारे brain को active रखने के लिए और अधिक विकसित होने के लिए। ऐसे कार्यों की आवश्यकता आदिकाल से थी। यदि हमारे पूर्वज सभी informations या घटना को याद रखते। अगर उनमें भूलने का गुण न होता। तो हम काफी सारे, ऐसे दुखों को भी नहीं भूल पाते। जो जीवन में आगे बढ़ने के लिए जरूरी हैं।

     हम हमारी वंशावली के इस क्रम को आगे ही नहीं बढ़ा पाते। क्योंकि हम उन दुःखो से ही घिरे रहते। इसलिए हमारा brain, सिर्फ meaningful काम की चीजों को ही याद रखता है। दूसरी information को समय रहते भूल जाता है। इसी तरह multitasking के लिए भी, हमारा brain capable नहीं है। जब हम एक साथ, ज्यादा काम हमारे brain को देते हैं। तब वह confuse हो जाता है। हमारे brain cells तक सही, information नहीं पहुंचा पाता। जिससे काम में गड़बड़ी हो जाती है।

Scientific research से ये साबित हुआ है। हमारा brain, interesting information को लंबे समय तक याद रख सकता है। वही boring चीजों को लंबे समय तक याद रखने में दिक्कत आती है। इसीलिए अगर आपको भी, अपनी याद शक्ति तेज बनानी है। तो आपको भी interesting तरीके से information, brain तक पहुंचानी होगी। न की boring तरीकों से।

5th Rule
Repeat To Remember

 हमारा दिमाग सिर्फ एक line जितनी ही information को। सिर्फ 30 सेकेंड के लिए ही याद रख सकता है। यानी कि हमारा ब्रेन कुछ चंद sentence ही याद रख सकता है। अगर आप इस 30 सेकंड के time bar को बढ़ाना चाहते हैं। तो आपको कुछ information को बार-बार दोहराना होगा। इसका मतलब है कि 2 घंटे तक की information को, आप याद रखना चाहते हैं। तो आपको हर 10 मिनट के बाद पढ़ा हुआ। वापस दोहराना होगा।

      19वीं सदी के एक जर्मन Psychologist Hermann Ebbinghaus ने पाया। छात्रों को आमतौर पर 30 दिनों के भीतर, कक्षा में जो कुछ भी सिखाया जाता है। उसका 90% वो लोग भूल जाते हैं। हालांकि उन्होंने साबित किया। कि जब वह उसे नियमित रूप से दोहराते हैं। तो छात्र उस जानकारी को अधिक कुशलता से लंबे समय तक याद रख सकता है। कुछ समय break लेकर, अपने brain को यह एहसास करवाइए। आपको उस जानकारी को वापस दोहराना है।

यह करना बहुत ही महत्वपूर्ण है। अगर आप ऐसा नहीं करते। तो आपका brain ये सोचता है कि वह information अनुपयोगी है। वह उसे दोबारा याद नहीं करेगा। जब आपका brain किसी information को पहली बार जाने। तो उसे बार-बार repeat करें। जिससे आप उस information को बेहतर तरीके से याद कर पाएंगे। इसीलिए अगर आप पढ़ा हुआ। सब कुछ लंबे समय तक याद रखना चाहते हैं। तो आज से ही पढ़ने के बाद, 15 से 20 मिनट वह सब पढ़ा हुआ। एक बार repeat कर ले। आपकी brain memory पहले से भी तेज हो जाएगी।

6th Rule
Study or Listening the Music, That Can Improve Your Brain Power

एक scientific research में पता चला है। अगर आप music सुनना पसंद करते हैं। या फिर music सीखते हैं। तो आपका brain दूसरों के मुकाबले ज्यादा grow होता है। Music, stress को कम करने और मन को शांत करने में बहुत उपयोगी होता है। आपने शायद यह महसूस भी जरूर किया होगा। आज एक प्रयोग जरूर करें। जब भी आपको, किसी काम को करने का मन न करे। तो एक बार अपनी पसंद का एक song सुन ले। फिर आप जो काम कर रहे हैं। उसे करने तुरंत बैठ जाइए। देखिए, फिर आपको काम करने का मन होता है या नहीं। 100% आपका mind शान्त हो जाएगा। फिर आप उस काम को अच्छे से कर पाएंगे।

7th Rule
Sleep Well, Think Well

 जब हम सो जाते हैं। तब भी हमारा brain कभी rest नहीं करता। यह 24 hours काम करता रहता है। हम जब नींद में होते हैं। तब भी हमारा brain कुछ न कुछ, नई information को process करता रहता है। अगर हम अच्छी नींद लेते हैं। तो उस नींद में भी, हम अपने brain को develop कर रहे होते हैं। जब हम पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं। तब हमारे मन व शरीर पर काफी stress पड़ता है।

      एक researcher ने, कुछ soldiers पर प्रयोग किए। जिनमें उनको एक जटिल military की मशीन को चलाना था। पहले दिन उनको कम नींद दी गई। फिर उनका test लिया गया। तब उन्होंने पाया कि उनके cognitive skills में 30% का loss हुआ। दूसरे दिन पर्याप्त नींद के बाद, वापस टेस्ट लिया गया। तो उन्होंने पाया कि उनकी कार्य क्षमता में बढ़ोतरी हुई। उन्होंने बिना किसी परेशानी के, उस test को पास कर लिया। इसका सीधा-सा अर्थ है कि हमें पर्याप्त नींद की आवश्यकता है।

क्या आपको दोपहर में नींद आती है अगर हां, तो यह एक normal प्रक्रिया है। हमारा brain कुछ पल के लिए आराम चाहता है। अगर आपको भी आज के बाद दोपहर में नींद जैसा एहसास होता है। तो आपको कुछ पल, power नींद ले लेना चाहिए। एक scientist research से पता चला है कि हर दिन 26 मिनट power नींद ले लेने से। नासा के pilots की performance 36% increase हो गई थी।

8th Rule
Stressed Brain Don't Learn The Same Way

आपने महसूस किया होगा कि जब आप stress फील करते हैं। तो आप खुद को कमजोर महसूस करते हैं। वह इसलिए होता है। क्योंकि जब हम stress महसूस करते हैं। तो हम अपने senses को खो देते हैं। जब लोग stress महसूस करने के आदी हो जाते हैं। तो वे अक्सर stress को control करने की feeling को ही खो देते हैं। जब वे किसी बड़ी समस्याओं का सामना करने में असमर्थ हो जाते हैं। तो वे खुद को असहाय महसूस कराते हैं। तनावग्रस्त लोगों का दिमाग, इसी वजह से। कुछ नया सीखना भी बंद कर देता है।

       Psychologist Martin Seligman ने इसको समझने के लिए। सन 1960 में एक scientific प्रयोग किया। जिसमें उन्होंने कुछ एक प्रजाति के कुत्तों को electric shock देना शुरू किया। इन कुत्तों ने electric shock से खुद को बचाने का बहुत प्रयास किया। लेकिन समय के साथ-साथ, उनकी प्रतिकारक क्षमता नष्ट होने लगी। उन्होंने प्रयास करना छोड़ दिया। इसके बाद 2nd phase में, उन्होंने इन कुत्तों को एक box में रख दिया। Box के एक part को खुला रखा। जिससे वह कुत्ते खुद को बचाना चाहे। तो भाग सके।

      लेकिन जब यह प्रयोग दोहराया गया। तो कुत्तों ने भागने का प्रयास तक नहीं किया। वह चाहते, तो भाग सकते थे। लेकिन उन्होंने कोशिश करना भी छोड़ दिया। इसकी मूल वजह, उनका पहले का stress ही था।

  इसी डर के stress में, अगर हम भी ज्यादा समय रहे। तो सोच सकते हैं। हमारी हालत कैसी होती होगी। इसीलिए stress में रहना काफी खतरनाक माना गया है। क्योंकि ज्यादा stress, हमारी विचार शक्ति को नष्ट कर देता है। Scientist मानते हैं कि हमारा mind किसी भी stress को 30 सेकंड तक ही झेल सकता है। हमारा brain लंबे समय के stress को manage के लिए बना ही नहीं है। ज्यादा stress आपकी memory और executive function को बिगाड़ सकते है। आपकी skill को कमजोर कर सकते है। 

निष्कर्ष यह निकलता है। कुछ नियंत्रित मात्रा में stress हमारे लिए फायदेमंद है। लेकिन अगर वह हद से बढ़ जाए। तो वह हमारे लिए, सबसे अधिक खतरनाक है।

9th Rule
Stimulate More of The Senses

 क्या पढ़ाई करते वक्त, संगीत सुन सकते हैं। अगर आप ऐसा कर सकते हैं। तो शायद आपका मस्तिष्क, ऐसा करने में सक्षम हो गया है। वैसे हमारे पूर्वजों के जीवन के बारे में सोचें। हमारे पूर्वजों ने बिना व्याकुलता के गुफाओं में पेंटिंग करते हुए। अपने दिन बिताए। उस समय उनके brain को एक ही बार में, कई processing करनी पड़ती थी। चाहे देखना हो, सुनना हो, smell लेना हो। स्पर्श करना हो। हमारा brain बेहद शक्तिशाली है।

इसका अर्थ है कि वह एक बार में कई इंद्रियों के माध्यम से जानकारी प्राप्त करने और उसे ग्रहण करने में सक्षम है। वास्तव में, जब एक ही समय में कई इंद्रियां active हो जाती हैं। तो उनकी कार्य क्षमता बढ़ जाती है। हमारी इंद्रियां एक-दूसरे से जुड़ी हुई है। वह एक-दूसरे से जुड़कर, एक-दूसरे को active कर सकती है। इसलिए अगर हमें भी अपने दिमाग (make your brain strong) को तेज बनाना है। तो  हमें हमारे पांचों sense का उपयोग करना चाहिए।

10th Rule
Our Visual Sense is The Strongest

हम सभी किसी image को लंबे समय तक, याद रखने में काफी माहिर है। एक experiment में scientists ने participants को 2000 से भी ज्यादा image को 10 सेकंड के intervel में दिखाया। कुछ दिन बाद, participants को उन image को याद करने को कहा गया। तो आश्चर्यजनक रूप से पाया गया। उन्होंने 90% accuracy के साथ, उन image को याद कर लिया था।

एक साल बाद भी participants का accuracy rate 65% था। यानी कि लोग जब information को सिर्फ सुनते हैं। तो सिर्फ 10% ही 3 दिन के बाद, याद रख पाते हैं। लेकिन जब उस information को visual और audio के साथ देखा जाता है। तो वही information 65% तक याद रह जाती है। जिसको picture Superiority Effect कहा जाता है। यह नियम कहता है। हमारी visual sense, हमारे किसी भी दूसरे sense से सबसे ज्यादा strong,  Influencer हैं। जो हमारे brain में सबसे ज्यादा प्रभाव create करती है।

11th Rule
Male And Female Brains Are Different

 Medical Scientists ने research के बाद पाया। Male और Female दोनों के brain अलग-अलग तरीके से काम करते हैं। उनमे कुछ differences हैं। पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में, depression ज्यादा देखने को मिलता है। जबकि पुरुषों में alcohol और दूसरे व्यसनों का प्रभाव ज्यादा होता है। दोनों में stress को handle करने की क्षमता भी diffrent है। Author बताते हैं कि महिला ज्यादा social होती हैं। जबकि पुरुषों को एकलता ज्यादा पसंद होती है। जिसका सीधा-सा अर्थ है। हर एक situation को handle करने की क्षमता पुरुष और महिला में different होती है।

12th Rule
We Are Powerful Natural Explorers

 हम सबको घूमना बेहद पसंद है। नई-नई जगह पर घूमने या travel करने से। हमारा mind खुलता है। हम सब दुनिया को करीब से जानने लगते हैं। इसीलिए अगर आपको घूमने का मन करें। तो बन जाइए घुमक्कड़। बड़ी-बड़ी कंपनियां जैसे google अपने time में से 20% time, उनको जहां जाने का मन करें। वहां जाने की छूट देता है।

     अगर आपकी भी कंपनी है। तो आपके यहां काम करने वाले कर्मचारी को, कुछ समय दीजिए। जिसमें वह कुछ समय free होकर अपने mind को fresh कर सके। अगर mind fresh होगा। तो वह काम भी अच्छी तरीके से कर पाएंगे।

अगर आप छात्र हैं। तो एक-दो घंटे की पढ़ाई के बाद, बीच में  कुछ समय का break ले लीजिए। जैसे कि 5 से 10 मिनट का समय, अपने घर के बाहर निकल कर घूम लीजिये। आपका mind तुरंत fresh हो जाएगा। जिससे आप पढ़ाई में भी, अच्छे तरीके से ध्यान लगा पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.