Advertisements

Mahesh Babu Biography In Hindi | महेश बाबू कैसे बने साउथ के सुपरस्टार

Mahesh Babu biography in Hindi । Mahesh Babu ki jivani। साउथ सुपरस्टार महेश बाबू । तेलुगू सिनेमा के महानायक। महेश बाबू के अनसुने किस्से। महेश बाबू ने कैसे बचाई 1023 बच्चों की जान। प्रिंस सुपरस्टार महेश बाबू। महेश बाबू के सफलता की कहानी। Mahesh Babu real life story। Mahesh Babu real name, lifestyle, family, girlfriend, income, networth, wife । South Actor Mahesh ।  Babu Mahesh Babu New Movie । Who is the Prince of Tollywood । Why is Mahesh Babu so famous । Mahesh Babu Wife Namrata Shirodkar 

South Super Star Mahesh Babu Biography
रील से रीयल तक का पूरा सफर

 दुनिया में हर इंसान पैसा कमाना और कामयाबी हासिल करना चाहता है। देखा जाए, तो इस तरह की इच्छा रखना। कोई बुरी बात भी नहीं है। लेकिन गड़बड़ तो तब होती है। जब किसी इंसान को कामयाबी मिलनी शुरू हो जाती है। क्योंकि दुनिया के ज्यादातर लोग, जरा सी कामयाबी मिलते ही उसके नशे में चूर हो जाते हैं।

      अपनी Success का so off करने लगते है। लेकिन दुनिया में कुछ लोग ऐसे भी होते हैं। जिन्हें चाहे जितनी भी कामयाबी क्यों न मिल जाए। लेकिन वह कभी भी अपने पैसों, अपनी success या फिर अपनी शोहरत का दिखावा नहीं करते। वे दुनिया के सामने एक simplicity की मिसाल बन जाते है।

     यह एक ऐसे ही actor हैं। जिन्होंने साउथ इंडियन सिनेमा से लेकर बॉलीवुड तक धमाल मचाया हुआ हैं। लोग इन्हें प्यार से Prince of Tollywood भी कहते हैं। यह South के Most Handsome Actors में से एक है। इनकी personality, simplicity, और formal dressing का charm अलग ही level पर है।

     इनकी smile आज भी, सबसे cutest smile में गिनी जाती है। यह new generation के ऐसे सुपरस्टार हैं। जिनकी female के बीच, सबसे ज्यादा fan following है। महेश बाबू एक ऐसे Star है। जिनके न केवल लोग acting के कायल हैं। बल्कि उनका look भी लोगों को बहुत पसंद हैं।

      आज इनका craze next level पर है। यह तेलुगु के highest paid एक्टर्स में से एक हैं। आज महेश बाबू जिस भी position पर हैं। वहां तक पहुंचने के लिए, इनको खुद को कई बार proof करना पड़ा। डेब्यू शानदार रहा। लेकिन इसके बाद भी, इनके continue failure आये। 

    बीच-बीच में उनकी कुछ फिल्में चलती थी। तो फिर महेश बाबू को failure face करना पड़ता। लेकिन auditions का इन्हें भरपूर support भी मिला। फिल्म चले न चले। लेकिन इनकी fan following में भारी इजाफा होता रहा।

Mahesh Babu biography in Hindi
Advertisements

Mahesh Babu - An Introduction

 

South Indian actor 

Mahesh Babu – Ek Parichay

पूरा नाम

महेश घट्टमनेनी

उपनाम

नानी,प्रिंस, नावतरं सुपरस्टार व महेश बाबू

पिता

कृष्णा घट्टमनेनी (अभिनेता)

माता

इंदिरा देवी

विजया निर्मला (सौतेली माँ)

जन्म

9 अगस्त 1975

जन्म स्थान

चेन्नई, तमिल नाडु

स्कूल

St. Bede’s Anglo Indian Higher Secondary School, Chennai

कॉलेज

Loyola College, Chennai

शैक्षिक योग्यता

स्नातक (बी० कॉम)

व्यवसाय

अभिनेता व निर्माता

डेब्यू

राजा कुमारुदु (1999)

फिल्म में सक्रिय वर्ष

1979 – 1990 बाल कलाकार

भाई- बहन

भाई 

रमेश बाबू (बड़े) 

नरेश (सौतेले)

बहन 

पद्मावती (बड़ी)

प्रियदर्शनी (छोटी)

पत्नी

नम्रता शिरोडकर (अभिनेत्री)

बच्चे

पुत्री – सितारा 

पुत्र – गौतम कृष्णा

वेतन

20 करोड़ / फिल्म

नेटवर्क

$ 20 million

शौक

पढ़ना 

जॉगिंग

वीडियो गेम्स खेलना

अवॉर्ड्स

● इंटरनेशनल इंडियन

   फिल्म अकैडमी अवार्ड्स

   उत्सवम 

● नंदी अवार्ड 

● फिल्म फेयर अवार्ड

   साउथ 

● साउथ इंडियन 

   इंटरनेशनल मूवी अवॉर्ड्स ● सिनेमा अवार्ड

● सन्तोषम फिल्म अवार्ड

● TV9 नेशनल फिल्म

   अवार्ड 

● वामसी फिल्म अवार्ड 

● द हैदराबाद टाइम्स

   फिल्म अवार्ड

● एपी सिनेगोर्स’ 

   एसोसिएशन 34th 

   एनुअल अवॉर्ड

महेश बाबू का प्रारम्भिक जीवन
Early Life of Mahesh Babu

महेश बाबू का जन्म 9 अगस्त 1975 को चेन्नई में हुआ। यह अपने माता-पिता के 5 बच्चों में से, चौथे नंबर की संतान है। इनके पिता तेलुगु फिल्मों के मशहूर अभिनेता कृष्णा घट्टमनेनी है। जिन्होंने तेलुगु की 350 से भी ज्यादा फिल्में की हैं। इन्हें 2009 में पद्म भूषण अवार्ड से भी नवाजा गया। इनकी माता इंदिरा देवी हैं। इनसे बड़े भाई घट्टमनेनी रमेश बाबू हैं। पद्मावती और मंजुला स्वरूप हैं। जबकि महेश बाबू से छोटी प्रियदर्शनी है।

      महेश बाबू का ज्यादातर बचपन चेन्नई में ही बिता। इनकी नानी दुर्गा अम्मा के यहां। क्योंकि इनके पिता कृष्णा अपनी फिल्मों में बहुत व्यस्त थे। तो इनके पढ़ाई लिखाई की देखरेख रमेश बाबू ने की। यह अपने भाई बहनों के साथ क्रिकेट खेलते। वह भी VGP Golden Beach, Chennai में। इनके पिता भी इस बात का विशेष ख्याल रखते थे।    

  शनिवार और इतवार को उनकी शूटिंग VGP Universal में हो। ताकि वो, बच्चों के साथ समय बिता सकें। उनके पिता ने जबरदस्त परफॉर्मेंस दी। इस बात का भी विशेष ख्याल रखा कि कोई भी बच्चा इनकी वजह से मुसीबत में न आये। यही कारण था। सारे बच्चों ने अपनी असलियत छुपा कर रखी। ताकि स्कूल में उनके साथ किसी तरह का भेदभाव न हो।

महेश बाबू की शिक्षा
Education of Mahesh Babu

 महेश बाबू बचपन से ही पढ़ाई-लिखाई में बहुत अच्छे थे। इन्होंने St. Bede’s Anglo Indian Higher Secondary School, Chennai से अपनी प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त की। यहाँ पर मशहूर actor Karthik इनके school mate थे। फिर Loyola College, Chennai से Bachelor of Commerce की डिग्री प्राप्त की। 

     Loyola College में महेश बाबू के एक और बैचमेट थलापति विजय थे। यह दोनों ही एक्टिंग में, अपना कैरियर स्टार्ट करने से पहले ही। एक-दूसरे के कॉलेज time से अच्छे दोस्त बन गए थे। चेन्नई में शिक्षा प्राप्त करने के बाद भी, इन्हें तेलुगु पढ़नी व लिखनी नहीं आती थी। क्योंकि इन्होंने अपने स्कूल में अंग्रेजी के साथ, अन्य भाषा के रूप में हिंदी का चयन किया था।

महेश बाबू बाल कलाकार के रूप मे
Mahesh Babu As A Child Artist

महेश बाबू जब मात्र 4 वर्ष के थे। तब तेलुगु फिल्म के एक set पर पहुंचे। यह 1979 की फिल्म ‘Needa’ थी। यहां पर फिल्म के डायरेक्टर देसारी नारायण राव शूटिंग में व्यस्त थे। उस फिल्म के कुछ scenes में, महेश बाबू बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट में नजर आए।

     1983 की फिल्म ‘पोरातम’ की शूटिंग के दौरान। डायरेक्टर कोड़ी रामाकृष्ण ने, महेश बाबू के पिता कृष्णा से कहा। इन्हें हीरो के भाई का role दिया जाए। शुरुआत में महेश बाबू बहुत अधिक नर्वस थे। फिर बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट महेश बाबू ने कई फिल्मों में काम किया।

जिनमें प्रमुख फिल्में ‘Sankharavam’, ‘Bazaar Rowdy’, ‘Mugguru Kodukulu’, और ‘Gudachari 117’ थी। इसके बाद उनके पिता कृष्णा ने, इन्हें पढ़ाई को मद्दे नजर रखते हुए। Acting रोकने को भी कहा है। लेकिन बड़े होकर, ये इतने बड़े स्टार बन जाएंगे। इसका अंदाजा किसी को नहीं था।

महेश बाबू का तेलुगु सिनेमा मे कैरियर
Mahesh Babu Career in Telugu Cinema

अपना ग्रेजुएशन complete करने के बाद, महेश बाबू ने तीन से चार महीने acting की training ली। महेश बाबू को तेलुगु पढ़ना और लिखना नहीं आती थी। वह बस daily बोलचाल की भाषा में, तेलुगु बोलना जानते थे। इसलिए उन्हें शुरुआती फिल्मों के डब करने में काफी problem आती थी। 

      शुरुआत में वह अपने डायलॉग, दूसरे से सुनकर, उन्हें याद करते थे। फिर दोबारा से डब करते थे। सन 1999 में महेश बाबू की बतौर lead actor पहली फिल्म ‘राजा कुमारुदु’ release हुई। जो कि एक रोमांटिक कॉमेडी फिल्म थी। इस फिल्म में उनके opposite प्रीति जिंटा नजर आई थी। यह फिल्म हिट रही। इस फिल्म को बाद में, ‘प्रिंस नंबर वन’ नाम से हिंदी में डब करके release किया गया।

      महेश बाबू की पहली फिल्म के बाद से, ज्यादातर लोग उन्हें प्रिंस महेश बाबू के नाम से ही बुलाने लगे थे। इसके एक साल बाद, सन् 2000 में महेश बाबू की दो और फिल्में रिलीज हुई। ‘युवा राजू’ और ‘वामसी’ लेकिन यह दोनों फिल्में बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई। हालांकि फिल्म ‘वामसी’ के set पर ही उनकी मुलाकात। उनकी future wife नम्रता शिरोडकर से हुई।

     इसके बाद महेश बाबू की कुछ पॉपुलर फिल्में ‘मुरारी’ और ‘ओकाडु’ रिलीज हुई। इनकी फिल्म ‘ओकाडु’ के लिए, महेश बाबू को पहली बार best actor in telugu फिल्म का ‘फिल्म फेयर अवार्ड’ दिया गया। ओकाडु वही फिल्म थी। जिसे आगे चलकर सन 2015 में। अर्जुन कपूर के साथ ‘तेवर’ के नाम से बनाया गया। हालांकि हिंदी में यह फिल्म फ्लॉप रही।

   इसके बाद सन् 2004 में रिलीज हुई महेश बाबू दो फिल्में ‘नानी’ और ‘अर्जुन’ लगातार फ्लॉप हो गई। जिसकी वजह से महेश बाबू, उस समय काफी tension में आ गए थे। फिर कुछ समय, break लेने के बाद। उन्होंने फिल्म अठादु में काम किया। जो सन 2005 में रिलीज हुई। यह एक सुपरहिट फिल्म साबित हुई।

      इसके बाद सन् 2006 में महेश बाबू के career की सबसे बड़ी फिल्म ‘पोकिरी’ रिलीज हुई। जिसने कमाई के मामले में तेलुगू सिनेमा के पिछले बहुत सारे रिकॉर्ड तोड़े थे। इसने महेश बाबू को नंबर वन की position पर लाकर खड़ा कर दिया। यह वही फिल्म थी। जिसे आगे चलकर सन 2009 में सलमान खान के साथ ‘वांटेड’ नाम से बनाया गया। इस फिल्म ने उस समय सलमान खान के, डूबते करियर को संभाला था।

     वैसे तो महेश बाबू की बहुत सी फिल्मों की अलग-अलग भाषाओं में, कई रीमेक  बनाए गए। लेकिन महेश बाबू ने अभी तक के, अपने फिल्मी कैरियर में, किसी भी रीमेक फिल्म में काम नहीं किया। वह हमेशा से एकदम नई कहानी और नई फिल्म में काम करना पसंद करते हैं।

एक लंबे ब्रेक के बाद महेश बाबू की जर्नी
Mahesh Babu's Journey After A Long Break

महेश बाबू का नाम तेलुगू सिनेमा में, इतना बड़ा हो गया था। कि एक-दो फिल्मों के फ्लॉप होने के बावजूद। उनका कैरियर धीरे-धीरे ऊंचाई पर ही जा रहा था। हालांकि 2007 में आई। फिल्म अठाधी के बाद महेश बाबू ने 7 महीने का break लेने का decide किया था। लेकिन इस दौरान कुछ ऐसा हुआ कि महेश बाबू का यह break बढ़कर, 2 सालों का हो गया।

        Actually, इस दौरान महेश बाबू की नानी की मृत्यु हो गई थी। जिनके साथ महेश बाबू का पूरा बचपन बीता था। इसके अलावा, इसी समय नम्रता के माता-पिता की भी मृत्यु हो गई थी। इस वजह से महेश बाबू का सन 2008-09 में फिल्मों से एक लंबा break हो गया था। जबकि इस break के दौरान, महेश बाबू के पास बहुत सारे advertisement थे। जिसकी वजह से उन्हें financial problems का सामना नहीं करना पड़ा।

      महेश बाबू ने इस ब्रेक के बाद, कुछ नए अंदाज में डूकुडू, बिजनेसमैन, 1 नेनोककदिने, श्रीमन्थुदु, आगाड़ू, स्पाइडर, भारत आने नेनु और महर्षि देसी कई सुपरहिट और ब्लॉकबस्टर फिल्मों में काम किया। सन 2011 की फिल्म डूकुडू इतनी बड़ी फिल्म थी। जिसने 100 करोड़ से ज्यादा का collection किया। फिल्म के इतने ज्यादा collection की वजह से, Income Tax Department में ने भी उनके यहां रेड की थी। 

महेश बाबू का प्यार व विवाह
Mahesh Babu - Wife, Children & Family

सन 2002 में डायरेक्टर बी गोपाल की फिल्म ‘वामसी’, जिसकी शूटिंग ऑस्ट्रेलिया में चल रही थी। यहीं पर महेश बाबू की मुलाकात, उनकी co-star नम्रता शिरोड़कर से हुई। यह मुलाकात धीरे-धीरे प्यार में बदल गई। उनका यह प्यार लगभग, 4 सालों तक चला। नम्रता शिरोडकर उम्र में उनसे ढाई साल बड़ी है। फिर उसके बाद शादी में। महेश बाबू को इस विवाह के लिए, अपने माता-पिता को तैयार करने में कुछ समय लगा।

      जब एक बार वह मान गए। तो महेश बाबू और नम्रता की जोड़ी विवाह बंधन में बंध गई। इनका विवाह 10 फरवरी 2005 में हुआ। विवाह के बाद, नम्रता शिरोडकर ने फिल्मों से बिल्कुल किनारा कर लिया। इनके पहले बच्चे ने 31 अगस्त 2006 को जन्म लिया। जिसका नाम गौतम कृष्णा रखा गया। इसके बाद 20 जुलाई 2012 को इनके घर बेटी ने जन्म लिया। जिसका नाम सितारा रखा गया।

महेश बाबू से जुड़े कुछ विवाद
Controversies related to Mahesh Babu

 वैसे तो महेश बाबू हमेशा Controversy से दूर रहते हैं। लेकिन फिर भी, उनका नाम कुछ Controversy से जुड़ा हुआ है। महेश बाबू की एक फिल्म के promotion के दौरान। उनके कुछ फैंस ने सीडी ओनर की दुकान पर जाकर। उसको द्वारा Pirated CD बेचने को लेकर, दुकान पर काफी तोड़फोड़ की थी। उसको काफी भला बुरा कहा था।

     उस समय वहां पर महेश बाबू भी मौजूद थे। जिसे लेकर उस समय, महेश बाबू और उनके फैंस के खिलाफ़ केस दर्ज किया गया था। हालांकि तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री के कुछ बड़े एक्टर चिरंजीवी, नागार्जुन, पवन कल्याण जैसे कई actors ने महेश बाबू का पूरा support किया था। बाद में, पूरे मामले को रफा-दफा किया गया।

    इसके अलावा एक Controversy और थी। जब महेश बाबू ने रॉयल स्टैग व्हिस्की के ad को promote किया था। इस बात को लेकर, महेश बाबू के कुछ फैंस ने और  बहुत सारे लोगों ने उनका विरोध किया था। हालांकि इसको आगे चलकर, short out कर लिया गया। 

     इसके अलावा महेश बाबू India level पर Thumps up के Brand ambassador बने हुए हैं। उनका एक Thumps up का नया ad रणवीर सिंह के साथ launch हुआ है।

महेश बाबू की समाज सेवा व चैरिटी
Social Work & Charity of Mahesh Babu

महेश बाबू एक down to earth अभिनेता है। जब 106 साल की बूढ़ी अम्मा ने, मरने से पहले, महेश बाबू से मिलने की इच्छा जाहिर की। तो यह literally उनसे मिलने गए। यह रेनबो हॉस्पिटल के ambassador भी हैं। इसके साथ ही यह कई child foundation से भी जुड़े हुए हैं।

     इन्होंने 1000 से भी ज्यादा, बच्चों की heart surgery करवाई। जिससे उनकी जान बचाई जा सकी। आज भी महेश बाबू, अपनी earning का 30% से 40% हिस्सा चैरिटी करते हैं। अनाथ आश्रम में देते हैं। Old age home में donate करते हैं। जहां इन सब बातों का, खासतौर पर ध्यान रखा जाता है। यह सब बातें किसी को पता न चले। लेकिन यह सब बातें पब्लिक डोमेन में लीक हो ही जाती है।

      महेश बाबू ने पूर्वी पलेम और सिद्दापुरम जैसे दो गांव को adopt करके रखा है। जहां ये education, water और electricity जैसी हर समस्या का समाधान करते हैं। अभी हाल ही में, इन्होंने इन गांवों में free of cost, वैक्सीनेशन भी करवाया है। इन्हीं सोशल वेलफेयर एक्टिविटीज की वजह से, महेश बाबू को और भी ज्यादा पसंद किया जाता है। यह लगातार कई सालों तक, इंडिया के most desirable man की list में शुमार हुए हैं।

Read : Jubin Nautiyal Biography in Hindi । Rejection से Success तक का सफर                                                             

महेश बाबू इनकम व नेट वर्थ
Mahesh Babu - Income and Net Worth

महेश बाबू आज one of the most highest paid actors में गिने जाते हैं। तेलुगु फिल्म जगत में सिर्फ रजनीकांत ही इकलौते ऐसे अभिनेता हैं। जिनकी कमाई महेश बाबू से ज्यादा है। महेश बाबू प्रोडक्शन हाउस और महेश बाबू एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड के मालिक हैं। 

    महेश बाबू आज प्रत्येक फिल्म के लिए, 25 से 30 करोड़ों रुपए लेते हैं। इनका नेटवर्थ लगभग 30 मिलियन डॉलर है। महेश बाबू अपने Production House व अन्य कंपनियों में investment के कारण भी कमाते हैं। इसलिए भी इनकी नेटवर्थ में, लगातार इजाफा होता रहता है।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.