Advertisements

The 5 Love Languages Book Summary| अपनी Relationship को बेहतर बनाए

The 5 love language Book summary। The 5 love languages of children। अपने relation को कैसे बेहतर बनाएं। अपने पार्टनर की लव लैंग्वेज कैसे पता लगाएं प्यार की पांच भाषाएं। आपके relationship में dissatisfaction क्यों है। The 5 love language Book summary। The 5 love language Book summary। How to fix your relationship with the 5 love languages। The 5 love languages by Gary Chapman। The 5 love languages book review। How to Impress a Girl। How to Solve Your Relationship Problems।

The 5 love languages of children
Advertisements

The 5 Love Languages By Gary Chapman
Book Summary

Imagine करिए। आप किसी नए इंसान से मिले। आप उनको अपनी जिंदगी की सबसे अच्छी कहानी बता रहे थे। आप एकदम से उन्हें बताने लगे कि कैसे आप एक foreign country में गए थे। अपने सारे adventure उन्हें बताने लगे। थोड़ी देर के बाद, उन्होंने कहा कि उनको आपकी language समझ नहीं आ रही थी। अब मैं आपका frustration, imagine कर सकता हूं। आपने इतनी मेहनत से, बहुत बढ़िया कहानी, उनको सारे details के साथ बताई। 

     तब भी वह कुछ समझे ही नहीं। अब ऐसा तो हो सकता है। यह सब आपके साथ हुआ हो। लेकिन अगर ऐसा हुआ होगा। तो क्या आप उन पर गुस्सा करेंगे। Obviously नहीं, क्योंकि यह उनकी गलती नहीं। उनको आपकी language समझ में नही आ रही। In Fact, आपको तो पहले से पूछ कर रखना चाहिए। भाई, क्या तुम्हें english या Hindi आती है। उन्हें अपनी story बताने से पहले। लेकिन इतनी obvious बात हम relationship में भी miss कर देते हैं।

    Life में हमें, जब कभी इन चीजों का सामना होता है। हम feel करते हैं। हमारे दिल में, हमारे अपनों के लिए प्यार-मोहब्बत  होती है। लेकिन हम उन्हें express नहीं कर पाते। उसका इजहार नहीं कर पाते। जिसकी वजह से हमारे अपने, जिसमें हमारी family, siblings, friends और अगर शादी हो गई, तो spouse होते हैं। उन्हें feel होने लगता है। अब हम उनकी परवाह नहीं करते। उनसे प्यार नहीं करते। उनका ख्याल नहीं रखते।

  दुनिया में हर इंसान चाहता है कि उसे चाहा जाए। उससे प्यार किया जाए। लेकिन हर इंसान के love feel करने का method different होता है। Gary Chapman जो कि एक famous author, relationship expert और marriage Counselor है। वो अपनी book- The 5 love languages में इस चीज को explain करते है। 

         Gary Chapman ने अपने सालों के experience के बाद। इस चीज़ को observe किया। Basically, 5 fundamental love languages होती है। जिनके द्वारा लोग loved feel करते हैं। हर इंसान का एक love tank होता है। जब तक वह fill रहता है। तब तक इंसान emotionally और mentally stable रहता है। हमारे relation में specially marriage relation में हमारे love tank  का fill रहना, उतना ही जरूरी होता है। जितना कि एक vehicle के fuel tank का fill रहना। जब तक tank fill रहेगा। तब तक vehicle चलती रहेगी।

हमारे mostly relation इसी वजह से खराब होते हैं। क्योंकि हम अपने near one और dear one से उस language में communicate नहीं कर रहे होते हैं। जिस language में वह love को feel करता है। जो उसकी primary love language है।

What is a Love Tank ?

  कल्पना कीजिए कि आपके अंदर एक छोटा-सा body part है। जिसे हम love tank का नाम देते है। ये love tank बहुत interesting चीज़ है। यह तब भरने लगता है। जब कोई आपको respect व importance देता है। जब कोई आपकी care करता है। जब आपका love tank fill हो जाता है। तो आप secure, important व confident फील करते हो।  आप खुश रहने लगते हो। वही जब आपका love tank खाली होने लगता है। तब आपको frustration व weakness फील होने लगता है।

        Divorce क्यों होते हैं। इसके ऊपर एक survey किया गया। इसमें से 90% लोगों ने बताया। हमने इसलिए अपने partner से divorce लिया। क्योंकि हमें लगा। हमारा partner हमसे प्यार नहीं करता है। वह हमारी care नहीं करता है। प्यार हम सभी की एक emotional need होती है। हम सभी के अंदर प्यार का एक emotional love tank होता है। जो हमेशा भरा हुआ होना चाहिए। जो समय-समय पर खाली होता रहता है। जिससे हम शादी करते हैं। उससे उम्मीद करते हैं कि उसे हमारी emotional need को पूरा करेगा।

      Author हमे Love tank के बारे में बताते हैं। Love tank का basically मतलब है। एक इंसान कितना प्यार feel करता है। अगर किसी इंसान का Love tank फुल है। तो इसका मतलब है कि वह बहुत खुश है। वह अपने relationship से satisfied है। अगर उसका love tank खाली हो गया। तो इसका मतलब है कि वह प्यार feel नही करता हैं। वह इस relationship से नाख़ुश है।  

     आजकल सारे relationship की problems का बेस, यही Love tank  है। इसके लिए आपको अपने partner को love feel कराना होगा। उनकी ही love language में। ताकि उनका love tank, fill up रहे। यह सब सिर्फ romantic relationship के लिए ही नहीं है। आप अपनी life की हर relationship में, इसे apply कर सकते हैं। 

यह सभी तरीके के relationship के लिए सच है। चाहे आप parents हो या किसी को पसंद करते हो। Teenagers बच्चों के लिए, जिन्हें नया-नया प्यार हुआ है। या फिर आप काफी सालों से, प्यार को महसूस व express करते आ रहे हैं। फर्क नहीं पड़ता है कि आप कौन हैं।

What is Love Language ?

Gary Chapman जो 5 love language book के author हैं। वो ये कहते हैं कि human की 5 love languages होती हैं। जिसमें वो love को समझते व feel करते हैं। हर किसी की love languages अलग-अलग होती है। अब अगर आप उनकी love languages में बात नहीं करेंगे। तो चाहे आप जितनी भी कोशिश कर ले। वह आपका प्यार नहीं feel कर पाएंगे। 

      आपने काफी बार देखा होगा कि दो लोग हैं। जो एक-दूसरे से काफी प्यार करते हैं। आप भी कह सकते हैं कि यह दोनों प्यार करते हैं। लेकिन उनमें से एक इंसान हमेशा नाखुश रहेगा। वह कहेगा कि मुझसे तो कोई प्यार ही नहीं करता। अब इसका मतलब यह नहीं है कि actually में वे उनसे प्यार नहीं करते हैं। इसका बस यह मतलब है। वह उस प्यार को feel नहीं कर पा रहे हैं।

अगर आप अपने partner से प्यार की भाषा बोलना सीख लेते हैं। तो आप उनकी जिंदगी, प्यार से भर पाएंगे। अपने partner के love tank को भरने से। आपके partner का आपके लिए behavior भी change होगा। इससे दोनों को secure और प्यार महसूस होगा। अब चलते हैं। उन पांच methods की तरफ, उन 5 Love Languages की तरफ।

First - Love Language
Words of Affirmation

   जिन लोगों की primary love language – words of affirmation होती है। यह चीज उनके nature में होती है। वह emotions को, feelings को words में सुनना पसंद करते हैं। वे अपने करीबी लोगों से, जिनसे वो emotionally connect होते हैं। यह चीज expect कर रहे होते हैं। उनके बारे में जो कुछ भी feel किया जाए। Preferably positive हो। उसे words में describe किया जाए। उसका लफ्जों में इजहार किया जाए। इसका सीधा मतलब यह होता है। आप उस शख्स को appreciate करें। Positive complement करें और उसे encourage  करें।

उदाहरण के लिए, आपका spouse आपके लिए रोज breakfast तैयार करता है। इस पर आप कह सकते हैं कि मैं जानता हूं। एक routine में यह काम करना, इतना आसान नहीं होता। इसके लिए, मैं आपको appreciate करता हूं। मैं दिल से, इसकी value करता हूं। मैं इस चीज के लिए भी grateful feel करता हूं। मुझे आप जैसा, इतना अच्छा और responsible spouse मिला। General complement में, आप यह भी कह सकते हैं। भाई, आज तो आप इतने stress में भी बहुत अच्छे लग रहे हो।

Gary Chapman के पास एक case आता है। जिसमें एक married couple होता है। उनका relation खराब हो रहा होता है। लेकिन उन्हें नहीं पता होता है कि इसका reason क्या है। Husband का यह कहना होता है कि मैं अपनी सब responsibility पूरी कर रहा हूं। लेकिन मेरी wife ने आज तक appreciate नहीं किया। मेरी wife ऐसे behave करती है। यह सब कुछ general है। सारे husbands करते हैं। मैं कोई बड़ा काम थोड़ी कर रहा हूं।

       जबकि वहीं wife का कहना होता है। मेरा husband आज तक मेरे पास बैठा ही नहीं। मुझे time ही नहीं दिया। मुझे सुना ही नहीं। यहां Gary को clearly पता चल गया। Husband की language words of affirmation है। वहीं wife की language कुछ और है। जिसे हम आगे समझेंगे। Gary Chapman ने इससे ये conclude किया। दो लोग जब साथ रहते हैं। उनकी love language भी different हो सकती है।

      कुछ लोगों का यह कहना होता है। उनकी यह philosophy होती है। प्यार तो दिल में होता है। उसे बार-बार लफ्ज़ो में बताने से क्या फायदा। इसका answer यह है कि आप आपके दिल में क्या चल रहा है। आप क्या feel कर रहे हैं। कोई शख्स आपके दिल में झांककर, तो नहीं देख सकता।

दिल की बात जुबां पर आए क्यों कर,

  वह बोले न तो हम समझे क्यों कर।

Second - Love Language
Quality Time

आप अपने spouse को, अपने dear one को हर facilities provide कर रहे हैं। लेकिन जब उनको, आपकी जरूरत है। आपके time की जरूरत है। आप वहां मौजूद नहीं। आप बहुत busy रहते हैं। इतने busy कि दिन में 15-20 मिनट भी नहीं निकलते। उनकी चंद बातें सुन ली जाए। वह क्या सोचते हैं। क्या feel करते हैं। या क्या share करना चाहते हैं। इस situation में, आपके dear one का love tank खाली रहेगा।

      वह emotionally unstable होते चले जाएंगे। किसी को quality time देना। अपनी undivided attention देना होता है। यह हरगिज़ ऐसा नहीं होता कि आप सेल फोन use कर रहे हैं। किसी से बात भी कर रहे हैं। या फिर एक साथ कोई मूवी एक टेलीविजन देख रहे हो। 

किसी को quality time देना हो। चाहे 20 मिनट ही दीजिए। लेकिन फिर focus के साथ। बिना किसी रुकावट के। Quality time spend करने के, ऐसी activities भी की जा सकती है। जिसमें दोनों participant आपस मे intrested हो। एक-दूसरे से उनके childhood memories के बारे में पूछा जा सकता है। इसके अलावा और भी कई ऐसी activities जैसे इकट्ठे walk करना। कोई indoor game खेलना। 

Third - Love Language
Receiving Gifts

Gary Chapman के पास एक lady अपना case लेकर आई। उसने बताया कि मुझे लगता है। मेरे husband अब मुझसे प्यार नहीं करते। Gary के पूछने पर कि अब आपको क्यों ऐसा लगता है। Lady ने बताया। मेरी शादी के पहले दिनों में, मेरे husband बहुत सारे gift लेकर आया करते थे। लेकिन gradually, उन्होंने gift देना छोड़ दिया। जब Gary ने husband से पूछा। Husband का reply था। Gift से कुछ नहीं होता। यह केवल पैसों की बर्बादी है।

      मैं अपनी wife को gift दूंगा। वह इसे receive करेगी। फिर receive करके showcase में रख देगी। इसका मुझे तो कोई benefit नजर नहीं आता। यहां लोग यह समझने में गलती कर देते हैं। Value, gift की नहीं होती। Value उस emotion  की होती है। उस जज्बे की होती है। जिसकी वजह से, वह gift दिया गया था। Gift का costly होना। Expensive होना, जरूरी नहीं होता।

       Gift किसी garden को तोड़ा, एक flower हो सकता है। घर में बनाया, एक simple card हो सकता है। ये हम सब जानते हैं कि गिफ्ट देने से। Exchange करने से, मोहब्बत बढ़ती है। Relation अच्छे होते हैं। लेकिन हम भूल जाते हैं। अक्सर लोग यह सोचते हैं कि अब तो शादी हो गई। Relation बन गया। अब क्या जरूरत है। यह सब करने की। इस चीज को समझ लीजिए कि आपका partner, आपका spouse अगर emotionally fit रहेगा। Refresh रहेगा।

In return, आप भी emotionally fit रहेंगे। Stable रहेंगे। अगर आपको नहीं पता कि आपके partner को, आपके dear one को, क्या gift लेना पसंद है। यह आपको gift selection में problem होती है। तो अपना mind खुला रखिये। जब भी वह शख्स, किसी चीज के बारे में बात करें। मुझे यह चीज पसंद है। आप उसे नोट कर लें। फिर next time वही चीज present करें। Gift वही हो, जो आपके dear one से related हो।

Fourth - Love Language
Acts of Service

   जो लोग इस language में love को feel करते हैं। वह अपने partner से इस चीज को expect करते हैं। उनका partner उनके साथ completely cooperate करें। घर के बाहर के जितने काम है। जितनी responsibilities हैं। उन्हें fulfill करें। इन लोगों के साथ, अगर आप सिर्फ words of affirmation का use करें। Properly, acts of service को न करें। तो इन लोगों का कहना होता है। भाई, तुम काम तो करते नहीं हो। लफ्जों में सिर्फ कहते हो कि तुम्हें बहुत प्यार है। अपने प्यार को काम करके दिखाओ।

Fifth - Love Language
Physical Expressions

  Physical touch के द्वारा भी, हम अपने emotions दिखाते हैं। अपने society और culture के अनुसार, different situation में। हम अलग तरह से Physical touch के द्वारा भी, अपने emotion दिखाते हैं। उदाहरण के लिए, shack hand करना। गले मिलना। Hug करना। बड़ों का प्यार से, सर पर हाथ फेरना। शाबाशी की थपकी देना।

अगर आपका dear one नाराज हो या परेशान हो। तो उसके कंधे पर हाथ रखकर, यह कहना कि परेशान क्यों होते हो। मैं तुम्हारे साथ हूं। अगर आपके dear one की प्राइमरी love language, physical touch है। तो यह चीज उसके लिए सबसे ज्यादा importance रखती है।

Physical touch, gender को नजर में रखते हुए। इस चीज पर भी depend करता है कि आपका dear one  इससे कितना comfortable है। उदाहरण के लिए, बड़ों लोंगो का छोटे बच्चों पर प्यार दिखाने का तरीका। उनके गाल पर थपकी दी जाए। लेकिन वह इन चीजों को नहीं देखते कि बच्चा इससे कितना comfortable है।

How to Know Your Primary Love Language

आपकी primary love language क्या है। अगर आपको identity करने में मुश्किल हो रही है। तो author ने इसके यहां तीन method बताएं है।

पहला- वह क्या चीज है। जिसको आपका dear one नहीं करता है। जिसकी वजह से आप hurt फील करते हैं। Chances हैं कि वह आपकी love language है।

दूसरा- वह क्या चीज है। जिसके लिए आपने अपने spouse, अपने dear one को करने की, बहुत बार request की है। 

तीसरा- जब किसी के लिए, आपके दिल में प्यार होता है। आप उसे express करना चाहते हैं। आप किस way में करते हैं। Chances हैं कि जिस way में आप express करते हैं। वही आपकी भी love language है।

      इस book की बहुत सारी चीजें Dale Carnegie की बुक How to win friends and Influence People से relate करती हैं। उस पर हमारी summary मौजूद है। इसे click करके आप पढ़ सकते हैं।

        अब एक और सवाल भी उठता है। हो सकता है कि इन 5 चीजों में से, सब चीजें हमें चाहिए हो। लेकिन हर एक की intensity different होगी। हो सकता है, quality time हमारी priority में सबसे पहले हो। ये हमारी primary love language है। मेरी दूसरी priority act of service हो। यह मेरी secondary love language होगी। 

 

Humble Request

   अभी तक आपने इसे पढ़कर, जो भी सीखा। वो पूरी Book का अंश मात्र है। यदि आप भी अपनी Relationship को बेहतर बनाना चाहते है। तो Gary Chapman की Book- The 5 Love Languages जरूर पढ़ें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.