Advertisements

Unshakeable By Tony Robbins Book Summary in Hindi | अमीर कैसे बनें …..

Unshakeable By Tony Robbins Book Summary in Hindi। पैसे से पैसा कमाकर अमीर बनो। कुछ ही सालों में, Financially Free होना सीखो। How to Become Rich। Knowledge of Stock Market। Unshakeable Book in Hindi pdf। Unshakeable Your Guide to Financial Freedom। Unshakeable Book Review in Hindi। Unshakeable Book Summary in Hindi।

Unshakeable Book Review in Hindi
Advertisements

Unshakeable Summary in Hindi
पैसे से पैसा बनाना सीखें

 हमारे Parents बचपन में ही, हमें Play School में डाल देते हैं। उसके बाद प्राइमरी, सेकेंडरी, हाई स्कूल और कॉलेज complete करने के बाद। जब बात पैसे कमाने की आती है। तब हमको यह realize होता है। 18 साल पढ़ाई करने के बाद भी, हमने पैसों से related कुछ भी नहीं सीखा।

      इसी गलती की वजह से, हमें पूरी life पैसों के लिए काम करना पड़ता है। इतना ही नहीं, बल्कि पूरी life काम करने के बावजूद भी। हम बहुत कम पैसे save कर  पाते हैं। अगर आप भी इस भेड़ चाल से हटकर कुछ करना चाहते है। तो आपको Tony Robbins की Unshakeable  Book को जरूर पढ़ना चाहिए।

     Investment यह word सुनकर, 90% लोग डर जाते हैं। क्योंकि यह complicated और risky होता है। लेकिन असल में, सच तो यह है। हमारे एजुकेशन सिस्टम में, इसके बारे में पढ़ाया ही नहीं जाता। हम graduation कर लेते हैं। इसके बाद भी, हमें investment के बारे में, बिल्कुल भी knowledge नहीं होती है।

       हमें बिल्कुल भी पता नहीं होता है। किस तरीके से पैसा, हमारे लिए काम कर सकता है। हमें लगता है कि पैसे को बैंक में  रखना ही, सबसे safe होता है। लेकिन ऐसा नहीं है। कुछ देश जैसे कि स्वीटजरलैंड, स्वीडन, जर्मनी, डेनमार्क और जापान जैसे देशों में तो, negative interest rate होता है।

      यानी कि अगर आप पैसे को बैंक में रखते हैं। तो आपको बैंक को interest देना होगा। आपको लग रहा होगा। कोई बात नहीं। भारत में तो 3 से 4% interest rate मिल ही रहा है। हम क्यों परेशान हो। लेकिन आपको inflation को भी count करना चाहिए। जो कि हर साल 6% की दर से बढ़ रहा है।

     इसका मतलब यह है कि आपका पैसे को inflation से compare करके देखें। तो वह हर साल कम ही हो रहा है। अब आप सोच रहे होंगे। कि आपको क्या करना चाहिए। किस तरह से investment करना चाहिए। जो कि हमें एक अच्छा return दे। इन सभी का जवाब, आपको Unshakeable के माध्यम से मिलने वाला है।

Unshakeable
Winter is Coming But When ?

 ताजा study के मुताबिक, 60% लोग financial market में, अपने trust को lose करते जा रहे हैं। इसकी वजह से कई सारे लोग, अपनी saving के 40% को cash में रखते हैं। इसका मुख्य कारण क्या है। इसका कारण है कि लोग बहुत ही ज्यादा डरते हैं। 

    उन्हें डर है कि वह गलत समय पर, मार्केट में invest कर रहे हैं। अगले market crash में, उनकी सारी मेहनत की कमाई राख हो सकती है। जैसा सच में, लोगों के साथ हुआ भी है। लेकिन author कहते हैं कि  market crash में, जहां 10% से ज्यादा down भी हो जाता है। तो उसे Market Correction कह सकते हैं।

      वही अगर 20% से भी ज्यादा down हो जाता है। तो उसे Bear Market बोला जाता है। लेकिन इन सब से, डरने की कोई जरूरत नहीं है। बल्कि invest करने की, सबसे Best Opportunity होती है। सन 1900 से लेकर 2015 तक, 34 Bear Market रहे है। लेकिन यह सारे market crashes हमेशा temporary रहे है।

      वास्तव में आखरी के 200 साल, स्टॉक मार्केट में invest करने का, सबसे best time रहा है। Winter is Coming  यानी कि सबको लगता है। Market Crash आने वाला है। लेकिन कोई नहीं जानता कि यह कब होगा। इसे हम control भी नहीं कर सकते हैं। अगर आप स्टॉक मार्केट में, invest करने जा रहे हो। तो आपको market crash तो experience करना ही होगा।

      जैसा हम कई सारे मौसम experience करते हैं। गर्मी होती है। फिर बारिश होती है। फिर सर्दियां आती है। लेकिन फिर से गर्मी आ जाती है। इसी तरह मार्केट के भी मौसम change होते रहते हैं। हमें सर्दियों के मौसम में, यानी market crash के समय पर, हिम्मत रखनी चाहिए। यह समझना चाहिए कि सर्दियों के बाद, गर्मी आती है।

      Market Crash के बाद, Market वापस ऊपर भी चला जाता है। वह पहले से भी, कहीं ज्यादा ऊपर चला जाता है। जैसे कि 2020 में Covid-19 की वजह से, Market Crash आया था। जहाँ Sensex तीन महीने में ही 41000 से गिरकर 27000 पर आ गया था। जहां लोग बहुत ज्यादा डर गए थे। उन्होंने loss में ही, अपने पैसे निकाल लिए थे।

    लेकिन यही market में पैसे invest करने का सबसे best time था। क्योंकि आज Sensex 58,987 पर चल रहा है। जो कुछ समय पहले, अपने all time high 61,674 तक भी पहुंच गया था।

Unshakeable
Compound Interest Means It Is Never Too Soon To Invest

  हम Humans में यह ability है। कि हम किसी भी repetitive pattern को बहुत ही जल्दी catch कर लेते हैं। उसी हिसाब से, action लेने लग जाते हैं। उदाहरण के लिए, Human  ने अपने early ages में मौसम को पहचानना शुरू किया। उसी हिसाब से अपनी फसलों को भी उगाना start किया।

      इसी तरह अगर आप भी स्टॉक मार्केट में अच्छे return कमाना चाहते हो। तो आपको भी, इसके कुछ patterns को समझना होगा। जिसमें सबसे basic pattern, Compound Interest का है। जिसे आप निश्चित ही जानते ही होंगे। जहां आपको, जो return मिलते हैं। वह आपके capital में add होकर, आपको उस पर और return generate करके देते हैं।

        समय के साथ-साथ, यह value बढ़ती जाती है। लेकिन हमारे brain को finance के मामले में, ये simple 2+2+2+2=8 maths ही समझ में आती है। लेकिन compound 2×2×2×2=16  की तरह काम करता है। जहां हम समझ तो जाते हैं। Compounding कैसे काम करती है। लेकिन हम इसके real power को realize नहीं कर पाते हैं।

     उदाहरण के लिए, अगर आप अपने 19th बर्थडे से, हर साल ₹1 लाख invest करना शुरू करते हो। आपको एक average 15% का return मिलता है। तो लगातार 1 साल के बाद, जब आप अपना 38 का Birthday cake काट रहे होंगे। तब आपके account में ₹1.01 करोड़ होंगे।

       अगर आप 5 साल और रुक जाओ। तो ये amount double हो जाएगा। 43 साल की उम्र में, यह amount ₹2.04 करोड़ हो जाएगा। इसी तरह आपके एक-एक साल की क्या value है। आप समझ ही गए होंगे।

इसलिए आप जिस भी condition में हो। आपके पास जितना भी पैसा हो। उसमें से कुछ तो invest करना start कर ही दो। क्योंकि आप जितना late करते जाओगे। आपका time, आपके पैसों की value को और कम करता जाएगा।

Unshakeable
The Core Four

जल्दी start करना अच्छी बात है। लेकिन कहां invest करना चाहिए, कहां नहीं। यह बड़ा सवाल है। जिसके लिए, सभी experts और great investor इन four core principal को follow करते हैं।

Unshakeable
Don't Lose

  इस सदी के greatest investor वारेन बुफेट के investing से related सिर्फ दो rules है। जिसे वह खुद follow करते हैं। पहला rule है- Never Loose Your Money। दूसरा rule है – Never Forget the Rule No. 1

      इसलिए author कहते हैं। Investing में आपका focus, यह नहीं होना चाहिए।  ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाओ। बल्कि आपका main focus इस बात पर होना चाहिए। आपने जो पैसा invest करा है। सबसे पहले वह safe रहे। कोई भी व्यक्ति, अपने पैसों का नुकसान तो नहीं करवाना चाहता है।

       लेकिन आपको यह बात समझना बहुत ही जरूरी है। जब आप स्टॉक मार्केट में पैसा लगाते हो। तो आपके पैसे डूबने का risk तो होता ही है। चाहे थोड़ा हो, लेकिन होता है। अगर आपके पास, basic knowledge नहीं है। तो यह risk और भी ज्यादा बढ़ जाता है।

      मान लो आप ₹1000 किसी कंपनी के stock में invest कर देते हो। जिसका कोई future ही नहीं है। आपका कुछ समय बाद, 50% का loss हो गया है। आपके ₹1000 सिर्फ ₹500 ही रह गए हैं। इस समय पर अगर, आप इन ₹500 को निकाल लेते हैं। कही और दोबारा invest कर दोगे।

     जहाँ आपको 50% का return मिल जाएगा। आप अपने ₹1000 वापस पा लोगे। लेकिन ऐसा नहीं है। अगर आपको इन ₹500 पर 50% return मिल भी जाता है। तो आपको केवल ₹250 ही मिलेंगे। जो total ₹750 ही बनाएंगे। तो आपको अपने ₹1000 वापस पाने के लिए, ₹500 को किसी ऐसे stock में लगाना पड़ेगा।

       जहां से आपको 100% return मिले। जो बहुत ही मुश्किल है। इसलिए आपको ऐसी investment चुननी है। जोकि safe  हो। किसी ऐसी कंपनी में निवेश करना है। जो सालों से मार्केट में हो। Reliable हो और trusted हो। ताकि आपका पैसा safe रहे।

Unshakeable
Create Asymmetric Risk/Reward

   आपने यह कई movies या internet पर देखा होगा। जहाँ ऐसा कहा जाता है। अगर आपको life में बहुत पैसा कमाना है। तो आपको, एक बड़ा risk लेना ही होगा। ज्यादातर, इसी बात पर believe भी करते है। लेकिन author कहते हैं कि यह बहुत ही बड़ा झूठ है। जिसे बेचा जा रहा है। लोग अपने पैसे डूबा भी रहे हैं।

     आपको ऐसी जगह निवेश करना चाहिए। जहाँ risk कम से कम हो और reward बहुत ही high हो। इसी concept को investor, asymmetric risk/reward relationship कहते हैं। इस concept को एक highly respected trader, Paul Tudor Jones भी इसी principal का use करते है।

      जहां वह अपने five to one rule को follow करते हैं। जहां वह अपने एक investment में 5X return पर focus  करते हैं। यानिकि वह अच्छे से analysis करके, ऐसी कंपनी में invest करते हैं। जहां उनके ₹100, ₹500 बन सकते हैं। इसी rule को follow करने से, अगर वह 80% बार भी फेल हो जाते हैं। तब भी उन्हें ज्यादा फर्क नहीं पड़ता है।

      मान लो अगर वह ₹1000 की 5 investment करते हैं। जहां से उन्हें ₹1000 के ₹5000 बनने के chances ज्यादा है। जहां उनका total ₹5000 के investment amount को safe रखने के लिए। उन्हें 5 में से सिर्फ 1 बार ही सही होना है। अगर वह 3 बार भी सही हो जाते हैं। दो बार गलत भी हो जाते हैं। तब भी उन्हें ₹15000 का profit होगा।

     जबकि सिर्फ ₹2000 का नुकसान। जहां हम देख सकते हैं कि Jones successfully सिर्फ दूसरे rule को, ध्यान में रखकर invest कर रहे हैं। जहां वह market के unpredictable nature के फायदे उठाकर, कम से कम risk लेकर।  ज्यादा से ज्यादा reward ले पा रहे हैं। अपने पैसों को भी safe रख रहे हैं।

     कम से कम risk लेकर, reward पाने का, दूसरा तरीका author बताते हैं। हमें under valued stock में invest करना चाहिए। जैसा कि आपने देखा 2020 में, जब market crash हुआ था। तब सारे stocks under valued हो गए थे।

इसका लोगों ने फायदा उठाया। उस समय market में invest कर दिया। जिसका result आज आप देख सकते हैं। कुछ ऐसा ही 2008 के financial crisis में भी हुआ था।

Unshakeable
Tax Efficiency

 एक smart investor हमेशा अपने decision लेने से पहले, taxes के बारे में सही knowledge रखता है। क्योंकि taxes आपकी investment में से, अच्छा खासा पैसा खा जाते हैं। हमें अपनी investment में, 2 तरीके के tax देने होते हैं।

  एक होता है, Short Term Capital Gain। जिसमें अगर हम stocks लेने के, 1 साल से कम time में ही, उसे sell कर देते हैं। तो हमें एक short term gain tax भरना होता है। जहां हम अपने net profit का कुछ percentage गवर्नमेंट को, tax के रूप में देना होता है। जो हमारे इंडिया के मुताबिक, 15% होता है।

      दूसरा होता है, Long Term Capital Gain Tax। जहां अगर हम अपने stocks को 1 साल से ज्यादा, समय तक hold करके रखते हैं। तो हमें अपने net profit पर, एक long term capital gain tax को pay करना होता है। जो usually 0-10% के बीच में होता है।

     इस stock investing में, कई तरह के hidden charges भी छुपे होते हैं। जो आपके पैसे को कम करते जाते हैं। हमें पता भी नहीं चलता। इसलिए कभी भी investment करने से पहले, हमें सभी fees और taxes को consider करना चाहिए।

     जैसे कई लोग Mutual Funds में भी invest करते हैं। जहाँ इस fund को manage करने के लिए, आपसे fees ली जाती है। जिसके बारे में, कई लोगों को पता भी नहीं होता है। साथ ही आपको tax अलग देना होता है। इसलिए ऑथर suggest करते हैं। कि अगर आप individual stocks में invest नहीं करना चाहते हो।

       तो आपको Mutual Fund में नहीं, बल्कि Index Fund में invest करना चाहिए। जहां आप बिना knowledge के, किसी गिनी चुनी कंपनीज में invest नहीं करते हो। बल्कि आप market के टॉप कंपनीज में invest करते हो। जिसमें आपको कोई expensive fees भी, pay  नहीं करनी पड़ती है।

Unshakeable
Diversification

 यह Core Four का last principle  आपको market crisis और changing trends से भी safe रखता है। यह rule दुनिया के सभी निवेशक use करते हैं। Financially यह बहुत famous भी है। जिसे हम Never Put All Your Eggs in One Basket से भी समझ सकते हैं।

     जहां हम कभी भी, अपना सारा पैसा किसी एक stock में नहीं लगाना चाहिए। क्योंकि उससे हम risk और भी ज्यादा बढ़ा रहे हैं। अगर वह कंपनी डूब जाती है। तो हमारे सारे पैसे डूब जाएंगे। इसलिए इससे बचने के लिए, हमें अपनी investment को diversify रखना चाहिए। जिसके लिए, author हमे 4 तरीके बताते हैं।

Unshakeable
1. Different Asset Class

स्टॉक मार्केट में investment करने के अलावा भी कई सारे options हैं। जैसे रियल स्टेट, बॉन्ड, गोल्ड और अब तो crypto भी आ गया है। तो आप अपने पैसों को अलग-अलग, assets class में divide करो।

Unshakeable
2. Within Asset Class

एक ही assets class में भी, आप अपनी investment को diversify कर सकते हो। जैसे Stocks में सिर्फ रिलायंस के शेयर लेने के बजाए। आप टाटा के भी शेयर ले सकते हो। आईटीसी, एशियन पेंट, एचडीएफसी अलग-अलग इंडस्ट्रीज की कंपनी के अलग stocks में invest करके। आप अपने portfolio को protect कर सकते हो।

Unshakeable
3. Countries and Currencies

 स्टॉक मार्केट सिर्फ इंडिया में ही नहीं है। आप दुनिया भर में, कहीं भी invest कर सकते हो। जैसे आपने US स्टॉक मार्केट में भी invest कर रखा है। मान लीजिए कि अगर अपने इंडिया में, कुछ problem आ जाती है। जिससे Indian Stock Market  डाउन चली जाती है।

     जिसका globally कोई effect नहीं है। तो इसमें आपकी investment, safe रह सकती है। साथ ही आपको यूएस डॉलर और इंडियन रूपी के difference का भी फायदा मिलेगा। क्योंकि Dollar की value हमेशा Indian Rupees से बढ़ती ही रहती है।

Unshakeable
4. Across Time

 यहां आप time के according भी, अपनी investment को increase करते जाते हो। जब आपको time सही लगता है। जैसे किसी market crash में, किसी कंपनी के stocks सस्ते में मिल रहे होते हैं। तो आप उस time का use करके, ज्यादा से ज्यादा investment कर सकते हो। जो आगे जाकर, आपको बहुत फायदा देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.