Advertisements

Ashneer Grover Biography in Hindi | क्यों दिया भारतपे के सीईओ पद से इस्तीफा

Ashneer Grover  Biography in Hindi। Ashneer Grover Co-Founder of BharatPe। Ashneer Grover life Story in Hindi। Ashneer Grover in Hindi भारत पे के फाउंडर अशनीर की पूरी कहानी। अशनीर का सच। शार्क टैंक जज – अशनीर ग्रोवर। अशनीर ग्रोवर ने भारत पे से Resign क्यों किया। कैसे खड़ी की ₹21000 करोड़ की कंपनी। शार्क टैंक क्या है। Ashneer Grover Resigns as BharatPe MD।  Ashneer Grover Success Story in Hindi। Real Story of BharatPe Founder Ashneer Grover। Shark Tank Judge Ashneer Grover in Hindi। Who is Ashneer Grover। BharatPe Co-Founder Ashneer Grover Resigned।  Ashneer Grover Income Ashneer Grover Net-worth Ashneer Grover Lifestyle 2022। Ashneer Grover Family Ashneer Grover Wife and Children

Ashneer Grover - Ex Co-Founder of BharatPe Biography in Hindi
शार्क टैंक के लोकप्रिय जज

 एक समय था। जब इंडिया में टेलीविजन पर, हमेशा वही घिसे-पिटे सास-बहू वाले सीरियल ही देखने को मिलते थे। लेकिन पिछले कुछ समय में, जब से लोगों के बीच OTT का प्रभाव बढ़ा है। तभी से टेलीविजन में दिखा जाने वाले, contents  में भी काफी बदलाव नजर आने लगा है। इसी बदलाव के दौर में, TV पर Shark Tank India नाम का बिल्कुल नया रियल्टी शो शुरू हुआ है जिसे की लोगों द्वारा काफी पसंद किया जा रहा है।

    Paytm और PhonePe जैसी कंपनियों कई सालों तक मेहनत करके। अपना बिजनेस खड़ा किया। इन्होंने धीरे-धीरे लोगों को सिखाया की QR Code के द्वारा payment कैसे करते हैं। लेकिन अभी तक, यह कंपनी full flash, QR Code provider companies नहीं बन पाई थी। जहां सभी payment अब तक, फोन नंबर  द्वारा ही हो रहे थे। बस इसी कमी को देखते हुए। बिजनेस बनाने का idea दिल्ली के बंदे को आएगा। 

      फिर वह बन गया, इंडिया का सबसे पहला और सबसे बड़ा QR Code scanner provider। 4 साल से भी कम वक्त में, अपने फोकस और मेहनत के दम पर।  कंपनी का valuation  ₹21,000 करोड़ तक पहुंचा दिया। सिर्फ 2 साल में ही, अपने investors को 80 गुना से ज्यादा का return दे दिया। वह कंपनी है- BharatPe और वह बंदा है- अशनीर ग्रोवर

       वक्त के साथ-साथ, देश बदल रहा है। Digital हो रहा है। इस digitalization में, एक बड़ा रोल BharatPe निभा रहा है।  यह एक ऐसी UPI सर्विस है। जो ग्राहकों को लेन-देन के अलावा भी, कई सुविधाएं देती है। जैसे कि Payment Transfer, Loan, Investment Interest Account, Extra  Income Card, Swipe Machine, Recharge व Bill, Bima, Khata Book, Cheque Credit Score, BharatPe Gold, QR code। इतनी सारी सर्विसेज के चलते हैं भारत पर तेजी से आगे बढ़ रहा है।

Shark Tank Judge Ashneer Grover
Advertisements

Ashneer Grover - An Introduction

 

Ashneer Grover 

Co-founder of BharatPe

Ek Nazar

नाम

अशनीर ग्रोवर

उपनाम

अशनु, शार्क

जन्म-तिथि

14 जून 1982

जन्म-स्थान

दिल्ली भारत

पिता

नाम ज्ञात नहीं – चार्टर्ड अकाउंटेंट

माता

नाम ज्ञात नहीं – स्कूल टीचर

कॉलेज

● इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली 

● इंसा-ल्योन विश्वविद्यालय, फ्रांस

● इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मनेजमेंट, अहमदाबाद

शैक्षिक योग्यता

• बी.टेक (B.tech)  

• एमबीए (MBA)

व्यवसाय

●भारतपे के को-फाउंडर 

●उधमी

●निवेशक

प्रसिद्धि का कारण

शार्क टैंक इंडिया के जज के रूप में

डेब्यू

वाईस प्रेसिडेंट – कोडक इंवेस्टमेंट बैंकिंग (2006-2013)

त्यागपत्र

1 मार्च 2022 को भारतपे के पद से त्यागपत्र

पत्नी

माधुरी जैन ग्रोवर 

विवाह तिथि

4 जुलाई 2006

बच्चे

● एवी ग्रोवर ( बेटा) 

● मन्नत ग्रोवर (बेटी)

पुरस्कार व सम्मान

● एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर अवार्ड – 2021

● यंग अचीवर अवार्ड -2021

इनकम/ सैलरी

₹1.5 करोड़ प्रतिमाह

₹30 करोड़ प्रतिवर्ष इक्विटी से

नेटवर्क

₹450 करोड़ (लगभग)

अशनीर ग्रोवर का प्रारम्भिक जीवन
Early Life of Ashneer Grover

  अशनीर ग्रोवर का जन्म 14 जनवरी 1982 को दिल्ली के पंजाबी परिवार में हुआ था। इन्हें प्यार से अशनु भी कहा जाता है। उनका परिवार एक well qualified, upper middle class family में हुआ। इनके पिता जी एक chartered Account हैं। इनकी माता जी एक teacher है। अशनीर बचपन से ही काफी bright student थे। इनके father  चाहते थे कि वह भी एक CA बने। लेकिन अशनीर को CA बनने में कोई interest नहीं था।

अशनीर ग्रोवर की शिक्षा
Education of Ashneer Grover

  अशनीर बचपन से ही पढ़ाई-लिखाई में बहुत होशियार थे। इसी वजह से, उन्होंने इंडिया के सबसे कठिन JEE exam को crack किया। इसी कारण इनका selection पहले ही प्रयास में, IIT Delhi  में हो गया। जहां से इन्होंने B.Tech (Civil Engineering) में की। अपने ग्रेजुएशन के दिनों में अशनीर ग्रोवर एक स्टूडेंट प्रोग्राम के लिए भी select हुए थे। अशनीर पढ़ने में इतने तेज थे। जिसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं। उनके batch में 450 students थे। जिसमें से सिर्फ अशनीर ग्रोवर और 5 अन्य student, Student Exchange Programme के लिए select किये गए थे।

      2002 में वह इस प्रोग्राम के तहत, फ्रांस के National Institute of Applied Sciences of Lyon में exchange student के रूप में गए थे। 

अशनीर की दक्षता को देखते हुए। french embassy की तरफ से, इनको €6000 की स्कॉलरशिप भी दी गई। IIT करने के बाद, इन्होंने Clat Exam को qualify किया। तब इन्होंने India के Management Studies में MICA कहे जाने वाले institute, IIM की Ahmedabad branch से MBA किया।

     यहां से उन्होंने बिज़नेस की, वह सारी skills सीखी। जो उनको आगे चलकर, बिजनेस जगत में, काफी काम आने वाली थी। 2006 में, MBA की डिग्री हासिल करने के बाद। अब अशनीर हाई प्रोफाइल कंपनी को join करने के लिए, eligible हो गए थे।

अशनीर ग्रोवर का कैरियर
Career of Ashneer Grover

  2006 में ही, अशनीर को camps placement के जरिये। Kodak Investment Bank ने एक Investment Banker करके रूप में, hire कर लिया। अशनीर ने इस कंपनी के साथ 2013 तक काम किया। 7 साल तक kodak में काम करने के बाद, इन्होंने अमेरिकन एक्सप्रेस को join कर लिया। यहां पर इनका काम, दूसरी Investment Company में invest करना था।

   इसी job के दौरान, अशनीर ने 100 से ज्यादा payment companies के founder के साथ बातचीत की। जिससे उन्हें पता चला कि वह क्या करना चाहते हैं। उनका बिजनेस मॉडल कैसा है। उनके challenges क्या-क्या है। उनके future plans क्या है। यह भी जाना कि वास्तव में, payment business क्या होता है।

      2015 में इनके पास एंटरप्रेन्योरशिप की पहली opportunity आई। जब इनके IIT के ही एक मित्र, अल्बिन्दर ढींडसा जो कि उस वक्त grocery delivery company, Grofers की शुरुआत कर रहे थे। उन्होंने अशनीर को Grofers में Chief Financial Officer (CFO) के रूप में शामिल होने का proposal दिया। अशनीर ने अपनी तगड़ी salary वाली, अमेरिकन एक्सप्रेस की job को छोड़कर। Grofers को join कर लिया।

     अशनीर ने स्टार्टअप में, बहुत ज्यादा मेहनत की। उन्होंने 2 साल के अंदर ही, इस कंपनी को 0 order से $30,000 तक प्रतिदिन पहुंचा दिया। Grofers को एक successful company बनाने के बाद। अशनीर ने आगे बढ़ने की सोची। फिर नवंबर 2017 में, उन्होंने पीसी ज्वेलर्स में एक Head of New Business के रूप में join कर लिया। जहां पर इनका काम, gold loan business को establish  करना था।

     पीसी ज्वेलर्स में काम करने के दौरान, उन्हें normal customer के behavior और psychology को जाने का जानने का मौका मिला। क्योंकि यहां पर इनकी dealing सीधे कस्टमर के साथ ही होती थी। अशनीर कहते हैं कि उन्होंने बड़ी-बड़ी कंपनियों के साथ, अपने इतने सालों के experience में, यह नहीं सीख पाए। जो उन्होंने सिर्फ 2 साल के अंदर ही, Grofers  और PC Jewellers के साथ, काम करने के दौरान सीखा।

अशनीर ग्रोवर का विवाह व बच्चे
Ashneer Grover - Marriage, Family and Children

  अशनीर ग्रोवर का विवाह जुलाई 2006 में, माधुरी जैन जी से हुआ। माधुरी जैन भी एंटरप्रेन्योर है। यह भारतपे में HR होने के साथ-साथ, फाइनेंस भी सँभालती है। माधुरी एक Successful Interior Designer भी रह चुकी है। भारतपे ने  वित्तीय गड़बड़ी के आरोप में, माधुरी ग्रोवर को हाल ही में बर्खास्त कर दिया। 

       उनके ऊपर आरोप लगाया गया है। कि जो उन्होंने कंपनी के funds का इस्तेमाल, अपने निजी खर्च भी किया। जिनसे इनके दो बच्चे भी हैं। जिनमें उनकी बेटी का नाम  मन्नत ग्रोवर है। इनका एक बेटा भी है। जिसका नाम एवी ग्रोवर है।

अशनीर ग्रोवर ने की भारतपे की स्थापना
Ashneer Grover - Establishment of BharatPe

 जून 2018 में अशनीर की मुलाकात, शाश्वत नकरानी और भावेक से हुई। जो कि IIT दिल्ली के Student थे। उनसे मिलकर अशनीर को पता चला कि उन्होंने एक ऐसी technology को figure out कर लिया है। जिसमें UPI के QR code को दुकानों पर लगाया जा सकता है। यह QR code  किसी भी payment provider company के through, payment को free में accept कर सकेगा। अशनीर को शाश्वत और भावेक की यह invention  बहुत ही ज्यादा अच्छी लगी।

      लेकिन वो ये भी जानते थे कि यह दोनों भी बहुत ही young हैं। इस invention को business बदलने के लिए, किसी बहुत ही experience professional की जगह जरूरत है। इसी इरादे के साथ, अशनीर ने इन दोनों के साथ मिलकर। 2018 में, BharatPe की नींव रखी। जिसका मकसद था। छोटे व्यापारियों को end-to-end फाइनेंशियल सर्विसेज provide करवाना। इनका यह बिजनेस बहुत ही ज्यादा, speed के साथ grow हुआ। क्योंकि यह मार्केट में, एक problem का solution लेकर आए।

    जिसमें सिर्फ एक QR Code की मदद  से, दुकानदार free में instant payment को receive कर सकता था। बहुत कम वक्त में, इनके साथ करोडों दुकानदार जुड़ गए। BharatPe बन गई, India की सबसे बड़ी QR Code provider company। आज भारतपे के जरिए, प्रतिदिन 50 लाख से भी ज्यादा transaction होते हैं। भारत में होने वाली सभी UPI Transaction में से 47% भारतपे के प्लेटफार्म के जरिए ही होती है।

      आज भारतपे सिर्फ एक QR Code provider कंपनी ही नहीं है। बल्कि यह छोटे दुकानदारों monthly average transaction को देखकर। उनका बिजनेस grow करने के लिए, उन्हें working capital loan भी provide करवाती है। भारतपे ने अब तक ₹3000 करोड़ से भी ज्यादा के working capital loan बांट चुकी है। आज भारतपे का revenue ₹700 करोड़ के पार हो चुका है। कंपनी के total assets  की value ₹20000 करोड़ से भी ज्यादा हो चुकी है। यह बात बहुत कम ही लोग जानते हैं। कि भारतपे ने Central Finance के साथ मिलकर, 2021 में एक बैंक की नींव भी रख दी है। जिसका नाम Unity Small Finance Bank Limited है। 

शार्क टैक क्या है? अशनीर ग्रोवर बने शार्क टैक के जज
What is Shark Tank? Ashneer Grover Appointed Judge of Shark Tank

दरअसल Shark Tank भारत का पहला Business Reality Show है। जिसमें हमारे देश के उभरते हुए, entrepreneur  अपने नए-नए व अनोखे Business Ideas लेकर आते है। जो कि investors के एक panel यानी कि Sharks के सामने आते हैं। असल में यह अमेरिकन reality show का Indian version है। जबकि अगर originally देखा जाए। तो इस show की शुरुआत, साल 2001 में जापान में हुई थी।

     जहाँ ये Tigers of Money और Money Tigers के नाम से जाना जाता था। उस समय जापान में इस show का concept लोगों में बिल्कुल नया था। जिसके चलते लोगों ने, इसे काफी ज्यादा सराहा था। तब यह show, launch होते ही सुपरहिट हो गया। इसके बाद से जापान में, इस show की जबरदस्त सफलता को देखते हुए। इसे दूसरे देशों में भी लाया गया। जहां 2005 के दौरान यह show, UK में भी लांच हुआ। जहां पर इसका सबसे popular नाम Dragon’s Den दिया गया। 

      अमेरिका में यह शो 2009 में, Shark Tank के नाम से शुरू हुआ। इसी नाम को अब, भारत में भी adopt किया गया। इस show का format बहुत ही simple और काफी दिलचस्प है। इसमें नए-नए एंटरप्रेन्योर को इन्वेस्टमेंट पाने के लिए, अपने Start-up व Business ideas  को show में शामिल investor यानी कि Sharks के सामने पेश कर करते हैं। एंटरप्रेन्योर को इंवेस्टमेंट पाने के लिए, Sharks को convince करना होता है। ताकि sharks उनके project में पैसा invest करें।

     Shark Tank India सोनी टीवी पर आने वाला show है। जिसमें कुल सात Shark शामिल है। जिनमें से कोई भी पांच Shark, हर एक episode में मौजूद होते हैं। यह सभी Shark, हमारे देश की कामयाब एंटरप्रेन्योर हैं। इन सात Shark में शामिल हैं।

 

Seven Judges of Shark Tank India

जज का नाम

पहचान

अशनीर ग्रोवर

पूर्व प्रबंध निदेशक व सह-संस्थापक – BharatPe

अमन गुप्ता

सह-संस्थापक व चीफ मार्केटिंग अधिकारी – boAt

पीयूष बंसल

संस्थापक व सीईओ – Lenskart.com

अनुपम मित्तल

सीईओ – Shaadi. com

नमिता थापर

सीईओ व प्रबंधक – Emcure Pharma 

गजल अलघ

सह-संस्थापक व मुख्य इनोवेशन अधिकारी – Mamaearth

विनीता सिंह

सह-संस्थापक व सीईओ – Sugar Cosmetics

अशनीर ग्रोवर घोटला विवाद व इस्तीफा
Ashneer Grover - Scam Controversy and Resignation

अशनीर ग्रोवर ने Kotak Mahindra Bank के, एक employee को काफी उल्टा-सीधा कह दिया था। जो एक टेप में रिकार्ड हो गया। फिर वह tape viral हो गया। अशनीर ने एक Security Loan के लिए apply किया था। वह इस loan के  पैसे को, NYKAA के IPO में लगाने वाले थे। जहां से इनको ₹500 करोड़ की इनकम का अनुमान था। जब वह loan वहाँ से acquire नहीं हो पाया। तो अशनीर ने, उस employee को काफी भला-बुरा कह दिया।

    इसके बाद Corporate Governance का एक नया issue, इनके नाम जुड़ गया। जिसके लिए एक separate independent farm को investigation के लिए appoint किया गया। इस agency ने जो रिपोर्ट बनाई। वह भारतपे तक पहुंचने से पहले ही leak हो गई। जिसमें खुलासा होता है। पहला कि कंपनी में false recruitment हुआ। दूसरा कि false payment हुए थे। जिनकी सत्यता भी जाँच ली गई।

    भारतपे के दूसरे को-फाउंडर सुहेल समीर ने, इन्वेस्टर के साथ मिलकर। अशनीर  ग्रोवर को बाहर निकालने की पूरी-पूरी तैयारी कर ली है। इसके बाद, अशनीर ने स्पष्ट कर दिया है। कि उन्हें ₹4000 करोड़  चाहिए। उसके बाद उनकी कंपनी से उन्हें कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने इसके पीछे  अपने effort को बताया है। जिसमें 12% club, All in One QR Code, Post Pe, Official Banker Licence जैसी चीजें है। जो उन्होंने कंपनी को दिए है। 

    इन सबके चलते अशनीर ने 1 मार्च 2002 को अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

अशनीर ग्रोवर की इनकम, नेट-वर्थ व लाइफस्टाइल 2022
Ashneer Grover - Income, Net-worth and Lifestyle 2022

  अशनीर ग्रोवर की salary प्रतिमाह ₹1.5 करोड़ है। इनके पास भारतपे की इक्विटी की बात की जाए। तो हर साल लगभग ₹30 करोड़ का प्रॉफिट दिया जाता है। क्योंकि इस कंपनी में, अशनीर के 15% के शेयर है। वहीं 2022 के अनुसार, अशनीर ग्रोवर की नेट-वर्थ ₹450 करोड़ है।

    अशनीर ग्रोवर के पास एक आलीशान घर मुंबई में है। जिसकी कीमत ₹25 करोड़  है। इसके अलावा इनके पास दिल्ली में भी एक घर है। जो लगभग ₹3.5 करोड़ का है। इनका एक घर अमेरिका में भी है। जिसकी कीमत लगभग ₹60 करोड़ है। अनिल ग्रोवर की सभी लग्जरी कार की कीमत लगभग 30 करो गोपा है। जिनमें इनके पास एक Audi, Mercedes Sedan, Mercedes SUV, Toyota SUV, Pahani Byaura, Rolls Royce Phantom और एक Mclaren भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.