Advertisements

Anjana Om Kashyap Best Inspiring Biography | आज तक से आजतक का सफर

Anjana Om Kashyap Motivational Biography। Biography of Anjana Om Kashyap। अंजना ओम कश्यप की जीवनी। अंजना ओम कश्यप अनसुनी दास्तां। अंजना ओम कश्यप के सफलता की कहानी। आज तक से आजतक का सफर। Anjana Om Kashyap ki Ansuni kahani। Struggle Story of Anjana Om Kashyap। Journalist Anjana Om Kashyap Biography। Anjana Om Kashyap Husband,Family, Net worth।

Anjana Om Kashyap Motivational Biography
आज तक से आजतक

 आमतौर पर हम किसी भी सेलिब्रिटी के बारे में जानने में उत्सुक होते हैं। उन सेलेब्रिटीज़ के जीवन में झांकने की खिड़की पत्रकार होते है। सबकी खबर देने वाले पत्रकार के ख़ुद की जिंदगी कैसी होती है। उनकी दिनचर्या कैसी होती है। हमारा प्रयास ऐसे ही किसी पत्रकार के जीवन से आपको रूबरू करवाना है। 

    एक ऐसी एंकर जिन्होंने टीवी पत्रकारिता के पुरुष वर्चस्व में, महिला एंकर की पहचान को एक नए सिरे से परिभाषित किया। एक ऐसा नाम, जिसका चेहरा टीवी की TRP की गारंटी बन गया है। एक ऐसा नाम जो टीवी पत्रकारिता में जाना-माना है। जिनका अपना अंदाज है। अपनी अलग पहचान है। जो विरोधियों के निशाने पर भी होती है। वही प्रशंसकों की सर आंखों पर रहती हैं। एक ऐसी पत्रकार जो UPSC के पेपर में असफल होने के बाद, टेलीविजन पर ऐसी छाई। कि वह चैनल की धुरी बन गई।

    यह एक ऐसी न्यूज़ एंकर हैं। जो अक्सर पत्रकारिता की दुनिया में छाई रहती है। इनका खबर बताने का अंदाज, सभी लोगों को खासा पसंद आता है। अपने तीखे शब्दों के प्रहार से, यह अच्छे-अच्छे लोगों को सच बोलने पर विवश कर देती है। लोग अंजना को तीखे बोल, unique body language और तीखे शब्दों के प्रहार के कारण जानते हैं।

अंजना ओम कश्यप एक बेबाक न्यूज एंकर और भारतीय न्यूज़ चैनल ‘आज तक’ की कार्यकारी संपादक हैं। जो अपने टी०वी० शो ‘हल्ला बोल’ और अपने सवालों से नेताओं के पसीना छुड़ाने के लिए, जानी जाती हैं। धारदार सवालों की बौछार, अंजना की पहचान है। एक पत्रकार के रूप में, दर्शकों के अनुभव के साथ एक ऐसी न्यूज़ एंकर हैं। जो अक्सर पत्रकारिता की दुनिया में छाई रहती है। के साथ खबरों को सामने रखती है।

Anjana Om Kashyap Motivational Biography
Advertisements

Anjana Om Kashyap - An Introduction

 

अंजना ओम कश्यप 

एक परिचय

नाम

अंजना ओम कश्यप

उपनाम

अंजना, AOK

जन्म

12 जून 1975

जन्म स्थान

रांची झारखंड

पिता

स्वर्गीय डॉ० ओम प्रकाश तिवारी

(पूर्व रक्षा अधिकारी)

स्कूल

लोरेटो कन्वेंट स्कूल, रांची

कॉलेज

●दौलत राम कॉलेज 

●जामिया मिलिया इस्लामिया

●दिल्ली विश्वविद्यालय

शिक्षा

●वनस्पति विज्ञान में स्नातक ●पत्रकारिता में डिप्लोमा

डेब्यू

2003 में दूरदर्शन की रिपोर्टर के रूप में

व्यवसाय

भारतीय टेलीविजन पत्रकार

पति

मंगेश कश्यप आईपीएस अधिकारी

बच्चे

एक बेटा व एक बेटी

अभिनेत्री के रूप में

सुल्तान (2016) 

टाइगर जिंदा है (2017)

शौक

पढ़ना, मूवी देखना व खाना बनाना

पुरस्कार व उपलब्धि

●बेस्ट रिपोर्टर ऑफ द ईयर

●सर्वश्रेष्ठ एंकर (ITA) 2014

●बेस्ट एंकर (ENBA) 2015

●बेस्ट एंकर (IMWA) 2015

●इंडिया टुडे के चेयरमैन उत्कृष्ठता पुरस्कार

●Phd. चैम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा सर्वश्रेष्ठ पत्रकारिता अवार्ड

Net Worth

60 – 70 करोड़

अंजना ओम कश्यप का प्रारम्भिक जीवन
Early Life of Anjana Om Kashyap

 अंजना का जन्म 12 जून 1975 को रांची  झारखंड में हुआ। जो कभी बिहार का हिस्सा हुआ करता था। लेकिन अब झारखंड की राजधानी है। इनके पिता का नाम डॉ ओम प्रकाश तिवारी है। जो भारतीय सेना में, एक डॉक्टर की हैसियत से सेवा कर रहे थे। बांग्लादेश की आजादी के संघर्ष में, उन्होंने सेवा की थी।

अंजना की शुरुआती पढ़ाई रांची के लॉरेटो कान्वेंट स्कूल में हुई। अंजना की ननिहाल बिहार में है। अंजना का बचपन बिहार की मिट्टी में ही बीता। उनके व्यक्तित्व में, बिहार के रंगों की झलक स्पष्ट दिखाई देती है। अंजना बचपन से ही जिद्दी स्वभाव की थी। वह अपनी बात के लिए, किसी से भी भीड़ जाया करती थी। उनकी यही बात और उनके यही तेवर, आज भी दिखाई देते हैं। जो उन्हें अंजना ओम कश्यप बनाते हैं।

अंजना ओम कश्यप की शिक्षा
Education Of Anjana Om Kashyap

 अंजना की विज्ञान में कोई खास दिलचस्पी नहीं थी। फिर भी उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से वनस्पति विज्ञान में स्नातक किया। अंजना कॉलेज के दिनों में ही, एक अच्छी debater थी। इसके साथ ही उनके अंदर नेतृत्व करने की क्षमता कूट-कूट कर भरी हुई थी। यही कारण था कि वह कॉलेज के छात्रावास की अध्यक्षा भी बनी। अंजना पत्रकारिता के क्षेत्र में नही आना चाहती थी। 

     वह अपने पिता की तरह ही डॉक्टर बनना चाहती थी। इसके लिए उन्होंने CPMT का Exam भी दिया। जिसे अब बदलकर NEET कर दिया गया। लेकिन इसमें वह कुछ खास नहीं कर पाई। इसके बाद, अंजना ने UPSC की तैयारी की। लेकिन वो इस परीक्षा में भी सफल नहीं हो सकी।

      इसके बाद उन्होंने अपनी उच्च शिक्षा के लिए, दिल्ली स्कूल ऑफ सोशल वर्क में दाखिला लिया। इसी समय अंजना के अंदर सामाजिक सक्रियता और मुद्दों के प्रति रुझान पैदा हुआ। उनकी पहली नौकरी Daewoo Motors में counsellor के रूप में थी। हालांकि उन्हें यह काम पसंद नहीं आया। 1 वर्ष के अंदर ही उन्होंने इस नौकरी से इस्तीफा दे दिया।

इसके बाद अंजना, एक NGO में कानूनी सलाहकार के रूप में शामिल हुई। NGO झुग्गी-झोपड़ी के लोगों के लिए, काम करता था। उन्होंने इस क्षेत्र में काफी समय तक काम किया। यहां रहकर उन्होंने अपने अनुभव और दृढ़ विश्वास को और अधिक mature किया। अंजना ने science stream में पढ़ाई जरूर की थी। लेकिन वह सामाजिक कार्यों में हमेशा जुड़ी रही। अंजना ने बलात्कार पीड़िताओं के लिए संघर्ष किया और उनके लिए काम किया।

अंजना ओम कश्यप का प्यार व विवाह
Anjana Om Kashyap's Love And Marriage

1995 के दौर में, जब अंजना दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा हुआ करती थी। तब उनकी एक लड़के से मुलाकात हुई। उससे उन्हें प्यार हो गया। यह मोहब्बत परवान चढ़ी। तो अंजना ने मंगेश कश्यप से विवाह कर लिया। मंगेश कश्यप उस समय पुलिस अफसर हुआ करते थे। वह इस वक्त भी सीनियर आईपीएस अधिकारी के रूप में सेवारत हैं।

जब कुछ समय पहले, उन्हें दक्षिण दिल्ली नगर निगम का मुख्य विजिलेंस अधिकारी बनाया गया था। तब भी लोगों ने उनकी आलोचना की थी। कि दरअसल मंगेश को यह पद, अंजना के कारण ही मिला। इस दंपत्ति की दो संताने, एक बेटा और एक बेटी है।

अंजना के पत्रकारिता जीवन की शुरुआत
Beginning Of Anjana's Journalistic Career

अंजना ने पति मंगेश की सलाह पर, साल 2002 में जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। यही वो turning point था। जब अंजना ने पत्रकारिता के तरफ रुख किया। उनके पत्रकारिता के सफर की शुरुआत, दूरदर्शन से हुई। उस वक्त दूरदर्शन पर ‘आंखों देखी’ नाम का एक show आता था।

अंजना को शुरुआत में इस कार्यक्रम का न्यूज़ डेस्क समझाया गया था। इसके साथ-साथ इनको अन्य responsibility भी संभालने को दी गई। लेकिन एक साल बाद ही, अंजना ने दूरदर्शन को अलविदा कह दिया। अंजना ओम कश्यप ने Zee News को join किया। यह अंजना के संघर्ष के दिन थे। खुद को तपाने और खपाने के दिन तक थे। वह एक एंकर बनना चाहती थी।

अंजना का विभिन्न चैनल का सफर
Struggling Period of Anjana Om Kashyap

  इसके लिए, उन्होंने Zee  में अनेक audition दिए। मगर सफल नहीं हो पाई। लेकिन अंजना Zee में अनेक काम करती रही। फिर एक वक्त वो भी आया। जब उनकी मेहनत रंग लाई। उन्होंने एंकरिंग का ऑडिशन पास कर लिया। उसके बाद वह विशेष परिस्थितियों में, Zee TV पर एंकरिंग करने के लिए मंजूर की गई। लेकिन कहा जाता है कि संघर्ष का सफर बहुत मुश्किल होता है। यह बहुत सी उठापटक से होकर गुजरता है। अंजना के पत्रकारिता में टर्निंग प्वाइंट तब आया।

      जब उन्होंने प्रिंस, जो बोरबेल के गड्ढे में गिर गया था। जब उसे सही सलामत बाहर निकाला गया। तब अंजना ने, इस खबर के लिए जी-जान लगाकर मेहनत की। उन्होंने इसका live किया। जो कि लोगों को बहुत अधिक पसंद आया। इसके माध्यम से अंजना ने अपनी एक पहचान बना ली थी। अंजना का दौर अभी कुछ ऐसा ही चल रहा था। तभी साल 2007 में अंजना ने Zee को अलविदा कह दिया।

Zee News को अलविदा कहने के बाद, अंजना ने News 24 को join कर लिया। यहां पर उन्होंने, एक एंकर के रूप में काम किया। यहां पर भी अंजना ने बमुश्किल 5 साल काम किया। फिर News 24 को भी अलविदा कह दिया। अब उन्होंने Star News का दामन थाम लिया। यहां पर भी, उनका सफर बहुत लंबा नहीं रहा। चंद महीनों के बाद ही, उन्होंने Star News को भी तिलांजलि दे दी।

अंजना का आज तक से आजतक का सफर

 इस उठापटक वाले दौर से निकलते हुए। अंजना ने देश का नंबर वन हिंदी न्यूज़ चैनल ‘आज तक’ को join कर लिया। तब से आजतक, अंजना ओम कश्यप इसी की होकर रह गई। अंजना इस चैनल के जरिए। एक ऐसा चेहरा बनकर उभरी है। जो शायद इस चैनल की मजबूरी बन गया है। अंजना वर्तमान में सर्वाधिक लोकप्रिय हैं।

आलोचनाओं और प्रसंशाओ के बीच, उनका अपना एक मुकाम है। उनकी अपनी एक जगह है। जहां फिलहाल अंजना अपने सबसे बेहतरीन दौर में जी रही है। आज तक पर सबसे महत्वपूर्ण कार्यक्रमों में से, एक show ‘हल्ला बोल’ को host करती है। वही अंजना प्राइम टाइम के समय एक विशेष रिपोर्ट लेकर आती है। यह दोनों ही कार्यक्रम दर्शकों के बीच अच्छा खासा प्रभाव रखते हैं।

अंजना का बॉलीवुड मे धमाल
Anjana's Bollywood Debut

 दुनिया अंजना को एक पत्रकार के रूप में जानती है। लेकिन बहुत कम ही लोग जानते हैं। कि अंजना ने बॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया है। साल 2016 में आई सलमान खान की फिल्म ‘सुल्तान’ और फिर 2017 में ‘टाइगर जिंदा है’ में भूमिका निभाई है।     

     अंजना खुद बताती है कि उनके पत्रकारिता के कैरियर में, निर्भया कांड एक ऐसा मामला है। जिसने सोचने और समझने के तरीके को बदला। उनमें और उनके पत्रकारिता के पहलूओ में बुनियादी बदलाव लाए। यह वही दौर था। जब दिल्ली की सड़कों पर रिपोर्टिंग करते हुए। उन्हें कुछ मनचलों ने छेड़ा था।

अंजना में अदाएं हैं। एक किस्म की तुनक मिजाजी है। व्यवसायिक मीडिया के अनुसार, व्यवहार है। लेकिन अन्य एंकर की तरह, बेलगाम और फ़ूहड़ नहीं है। उनमें स्थिति को भांपने की समझ है।

न्यूज़ मीडिया पर सरकार का दबाब व असर
Government's Pressure And Influence On News Media

 साल 2014 में जब केंद्र में सरकार बदली। तो भारत की मुख्यधारा की मीडिया ने भी अपना रंग बदल लिया। समूचा मीडिया सत्ता के चरणों में बिछ गया। एक नेता की आरती में मशगूल हो गया। ऐसे एकरों में अंजना को भी शामिल कर लिया गया। ऐसे में अंजना के ऊपर भी, सवालिया निशान लगने लगे। कि अंजना भी मौजूदा सरकार की वंदना में व्यस्त हैं।

      अंजना की पत्रकारी निष्ठा पर सवाल उठने लगे। उनके पक्षपात पूर्ण रिपोर्टिंग पर जमकर आलोचना हुई। अंजना की इस बात पर भी आलोचना हुई। कि उन्होंने भाजपा के हिंदूवादी प्रोपेगेंडा को आगे बढ़ाने का कार्य, अपने कार्यक्रमों के जरिए किया है। वह सत्ता की तरफदारी में दिन-रात लगी रहती है। अंजना पर आरोप लगा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में अर्थव्यवस्था सबसे बुरे दौर में गुजर रही थी। लेकिन उन्होंने कभी भी अर्थव्यवस्था से जुड़े मुद्दे को गंभीरता से नहीं उठाया। न हीं इस विफलता को लेकर सरकार पर हमलावर हुई।

अंजना ओम कश्यप उन चुनिंदा पत्रकारों में से एक हैं। जिन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने, इंटरव्यू देने के लिए हामी भरी। लेकिन अंजना के इस इंटरव्यू को लेकर भी जमकर आलोचना हुई। कि उन्होंने प्रधानमंत्री से तल्ख सवाल नहीं पूछे। अंजना के अति लोकप्रिय होने का बुरा असर, यह भी रहा है। कि उनकी हर एक गतिविधि, सार्वजनिक बहस का हिस्सा बनी।

अंजना ओम कश्यप की नेटवर्थ
Networth of Anjana Om Kashyap

अंजना ओम कश्यप अपनी family के साथ दिल्ली में रहती है। इनके पास एक Honda City कार है। जिसकी कीमत ₹15 लाख है। दूसरी कार इनके पास Audi Q5 है। जिसकी कीमत ₹55 लाख है। अंजना ओम कश्यप की मासिक इनकम एक करोड़ के ऊपर है। वही अंजना ओम कश्यप का नेटवर्क 60 से 70 करोड़ के बीच है।

अंजना ओम कश्यप से जुड़े विवाद
Controversies Of Anjana Om Kashyap

अंजना ओम कश्यप तब लोगों के निशाने पर आ गई। जब उन्होंने बिहार के मुजफ्फरपुर अस्पताल मामले में, सरकार से सवाल पूछने के बजाय। एक डॉक्टर को ही  हड़काने लगी। अंजना के इस रवैये को लेकर, लोगों में काफी नाराजगी देखने को मिली। अंजना का अन्य विवादों से भी नाता रहा। एक बार उन्होंने महाराष्ट्र के चुनाव में आदित्य ठाकरे के बारे में कुछ ऐसा कह दिया। कि विवाद इतना बढ़ा। जब अंजना ओम कश्यप को माफी तक मांगनी पड़ी। 

    सिर्फ इतना ही नहीं। अंजना के कुछ कार्यक्रमों को लेकर यह भी कहा गया। कि वह देश में सांप्रदायिक सौहार्द को बिगड़ने का काम कर रही हैं। वही इन्हें सोशल मीडिया और टीवी पर कुछ ऐसी झूठी व भ्रामक खबरें प्रसारित करते हुए भी पाया गया।  अंजना ओम कश्यप की बात हर दिन लाखों घरों का पहुंचती है। इनकी अपने समर्थक तो देखते ही हैं। बल्कि उनके विरोधी भी, इसे उसी भाव से देखते और सुनते हैं। अंजना ओम कश्यप की आलोचना की जा सकती है। सराहना की जा सकती है। लेकिन मीडिया जगत में उनकी उपस्थित को ख़रीज़ नहीं किया जा सकता। अंजना ओम कश्यप का चेहरा एक ब्रांड बन चुका है। इसके कारण ही वह देश के नंबर वन चैनल की एंकर हैं।

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.